best 20 giloy ke fayde | giloy benefits hindi

नमसकर दोस्तो  आज हम giloy ke fayde के बारे मे विस्तार से जानेंगे | साथ मे giloy ke nuksan के बारे माय भी जानेंगे |  कोरोना वायरस अपनी  दूसरी लहर के बाद अब तीसरी लहर की तैयारी मे है | तो एसे मे सबसे जरूरी हो जाता अपनी इम्यूनिटी को बढ़ाना और बरकरार रखना |

इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए जादातर लोग महंगी दवाइयों का सहारा लेते है जिनका कई रूपों मे साइड एफेक्ट देखने को मिलता है |

Advertisement

सिर्फ यही नहीं लोग महंगे महंगे डाइट चार्ट फॉलो करने लगते है | लेकिन आज मै आपको जिस औषधि के बारे मे बताने जा रहा हूँ वो आपकी इम्यूनिटी को बढ़ाने और बरकरार रखने मे बहुत बड़ी भूमिका निभाएगा |

हमारे परिवार मे हर कोई इस औषधि का भरपूर फाइदा उठा रहा है अब आपकी बारी है | जानिए क्या है giloy ke fayde

 

पुराने समय के लोग बहुत सी बीमारियों को ठीक करने मे गिलोए का ही सहारा लेते थे | आयुर्वेद मे गिलोए (giloy ke fayde) के बारे बहुत विस्तार से वर्णन है | गिलोए पर रिसर्च करने के बाद और इसके परिणामो को देखकर साइंटिस्ट एवं डॉक्टर्स भी हैरान है | उनका मानना भी है की गिलोए अथवा गोलोए ड्रिंक (गिलोए का काढ़ा ) एक बहुत ज़बरदस्त इम्यूनिटी बूस्टर है |

 

giloy ke fayde | benefits of giloy

 

गिलोए इतना फायदेमंद क्यो है ? giloy ke fayde

गिलोए की  पत्त‍ियों में कैल्शि‍यम, प्रोटीन, फॉस्फोरस पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है. इसके अलावा इसके तनो मे स्टार्च ,प्रोटीन  और कई तरह के न्युटृशियन्स भरपूर मात्रा मे पाए जाते है |

आयुर्वेद मे गिलोए को रसायन माना गया है जो की स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभकारी है |

 

गिलोए क्या है कैसा दिखता है ?

गिलोए को गडुची, अमृता  के नाम से भी जाना जाता है |  गिलोए एक प्रकार की राक्षस बेल है | इसे राक्षस बेल का नाम इसलिए दिया गया है क्योकि इस बेल के फैलने की कोई सीमा नहीं है | जैसा की आप इमेज मे देख रहे हो |

giloy-ke-fayde

 

आप इसके पत्तों से गिलोए की पहचान कर सकते हो | गिलोए के पत्ते हरे मुलायम दिल की आकृति के होते है | इस बेल की एक अद्भुत बात यह भी है की यह जिस भी वृक्ष पर फैलता है उसी वृक्ष के गुण भी अपने अंदर अवशोसित कर लेता है |

 

कैसे करे गिलोए का सेवन 

प्राचीन काल से ही गिलोय को एक आयुर्वेदिक औषधि के रुप में उपयोग  किया जाता रहा है। गिलोए की पत्ती से लेकर इसके तने तक  का उपयोग बहुत सी बीमारियों को ठीक करने मे किया जाता है |

इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए गिलोए का दो तरीके से सेवन किया जाता है |

Advertisement

 

पहला – इसके तनो का सेवन दूसरा इसकी पत्तियों का सेवन |

गिलोए के तनो का सेवन गिलोए काढ़ा (एनेरजी बूस्टर ड्रिंक) बनाने के लिए किया जाता है |

इसे बनान बहुत ही आसान है |

 

चलिये स्टेप 2 स्टेप जानते है की गिलोए का काढ़ा कैसे बनाते है |

आधा गिलास गिलोए का काढ़ा बनाने के लिए सबसे पहले गिलोए के  10 इंच लंबे तने को काट कर उसके ऊपर की लेयर (छिलके) को  चाकू की मदद से अच्छे से हटा दें |

अब गिलोए के इस तने को छोटे छोटे पिसिस मे काट लें |

giloy-ke-fayde

 

अब एक चाय बनाने वाले बर्तन मे एक से डेढ़  गिलास पानी डाल कर इन छोटे छोटे पिसिस को उसमे दल दें | इसी के साथ आप तुलसी ओर लौंग दाल चीनी भी डाल सकते है |

अब गैस की धीमी आंच पर इसे पकाए | आपको इतनी देर तक पकाना है जब तक पानी आधा गिलास ना रह जाए |

इसके बाद आपको इसे छान लेना है | लो जी आपका गिलोए काढ़ा तैयार है |

giloy-ke-fayde

 

ठीक इसी प्रकार हिलोए के पत्तों का भी सेवन कर सकते हो | 

 

सावधानिया – सेवन करने का सही समय और मात्रा 

इस काढ़े को नाश्ता करने से एक घंटा पहले या नाश्ता करनेके एक घंटे बाद ही पीना है |

आधे गिलास से अधिक सेवन नहीं करना है | 24 घंटे मे दो बार आप इसका सेवन कर सकते हो | दूसरा सेवन शाम के समय सबसे सही माना गया है |

Advertisement

 

 

गिलोए के पत्तों का सेवन कैसे करे ?

बहुत से लोग इसके पत्तों का सेवन सलाद के रूप मे करते है | बहुत से लोग गिओले के पत्तों को जूस बनानते वक़्त साथ मे ही पीस देते है | इससे गिलोए के पत्ते मे मौजूद फायदेमंद विटमीन्स उस ड्रिंक मे मिल जाते है | इस तरह उनकी ड्रिंक और जादा हेल्दी हो जाती है |

 

तो आप भी आज से ही गिलोए का सेवन करना शुरू कर दीजिये |

कहाँ मिलेगा गिलोए ?

गिलोए  आमतौर पर जगंलों-झाड़ियों में पाई जाती है।  वैसे तो यह कई जगह पर आपको मिल जाएंगे | यदि नहीं मिलता तो आप आयुर्वेदिक (होमियोपेथि) मेडिकल दुकानों पर जाकर गिलोए खरीद सकते हो | गिलोए आपको पाउडर की फोर्म मे आसानी से मिल जाएगी |  उन पर जानकारी के अनुसार ही उसका सेवन करे |

 

giloy ke fayde गिलोए के अद्भुत फायदे – giloy benefits hindi

  • गिलोए मे उपस्थित स्टार्च  शरीर के मेटाबोलीजम सिस्टम को बरकरार रखने मे बहुत मदद करता है | 
  • गिलोए मे भरपूर मात्रा मे     पाए जाते है जिस वजह से यह ईमूनीति को बढ़ाने और उसे बरकरार रखने मे रामबाण औषधि का काम करता है |
  • गिलोए के नियमित सेवन शरीर मे खून की कमी को दूर किया जा सकता है क्योकि गिलोए नए ब्लड सेल्स बनाने मे बहुत उपयोगी है जिससे अनीमिया (खून की कमी ) को ठीक किया जा सकता है |
  • गिलोय के पत्ते स्वाद में तीखे  ,कड़वे और कसैले होते हैं।
  • गिलोय के सेवन से  वात-पित्त और कफ को ठीक किया जा सकता है। गिलोए के पत्ते बहुत जल्दी हजम हो जाते है , गिलोए के पत्ते पेट मे भिजन को हजम करने वाले तेजाबी लिकुइड को मजबूत करता है जिससे हाजमा सही रहता है ओर खाया हुआ कुछ भी अच्छे से हजम करता है |
  • गिलोए ड्रिंक पाचन प्रणाली को दुरुस्त करता है पेट अथवा लीवर मे मौजूद गंदे बैक्टीरिया को खत्म करके साफ करता है |
  • गिलोए के नियमित सेवन  से प्यास, जलन, डायबिटीज, कुष्ठ और पीलिया रोग से निजात प सकते  हैं।
  • इसके साथ ही यह वीर्य को गाढ़ा और बौद्धिक क्षमता को मजबूत करती  है।
  • गिलोए के नियमित सेवन से बुखार, उलटी, सूखी खाँसी, हिचकी, बवासीर, टीबी, मूत्र रोग जैसी समसस्याओं से छुटकारा पाया जा सकता है |
  • महिलाओं की शारीरिक कमजोरी की स्थिति में यह बहुत अधिक लाभ पहुंचाती है।
  • पीलिया रोग को ठीक करने मे भी गिलोए बहुत लाभकारी है |
  • गिलोए और शहद का सेवन  सर्दी जुकाम  खांसी, गले में खराश और कफ से निजात दिलवाता है |
  • गिलोए के नियमित सेवन से शुगर लेवल नियंत्रित रहता है |
  • गिलोए गठिया रोज को भी ठीक करने मे रामबाण है |
  • गिलोए ड्रिंक के रोजाना सेवन से वजन को मेंटेन करने मे सहायक |

yoga for weight loss in hindi best 50 tips

 

गिलोय खाने के नुकसान
आमतौर पर कहा जाए तो गिलोय का नुकासन न के बराबर है. वहीं कुछ मामलों में इसके सेवन करने से काफी नुकसानदेह साबित हो सकता है. ब्लड शुगर कम होने पर गिलोय के नुकसान हो सकते हैं. यदि आपका पाचन ठीक नहीं रहता तो इसके नुकसान हो सकते हैं. गिलोय का इस्तेमाल गर्भावस्था के लिए काफी नुकसानदायक होते हैं.

 

 

तो दोस्तो यह है giloy ke fayde | अब आप अच्छे समझ गए होंगे की giloy ke fayde क्या है | तो आज से ही इसके भरपूर गुणो का फाइदा उठाने के लिए इसका सेवन शुरू कर दीजिये | गिलोए ड्रिंक के रोजाना सेवन से दस दिनो के अंदर आपको फरक नजर आने लगेगा |

giloy ke fayde की इस पोस्ट को जादा से जादा लोगो मे शेयर करे ताकि वह भी इसका भरपूर फाइदा उठा कर एक निरोगी जीवन जी सके |

 

एसी ही और भी तमाम पोस्ट पढ़ने के लिए घरेलू उपचार वाली केटेगरी मे विजिट करे |हमारे इस ब्लॉग मे घरेलू नुस्खो को लेकर तमाम पोस्ट पढ़ने के लिए घरेलू नुस्खो वाली केटेगरी मे जाए |हम अपने इस ब्लॉग पर स्वास्थ्य से संबन्धित पोस्ट डालते रहते है |

 

immunity-power-kaise-badhaye 

Advertisement

जरूर पढ़े – शरीर को स्वस्थ,मजबूत ,और सुंदर बनाने के लिए एक हज़ार से भी जादा हैल्थ एवं निरोगी टिप्स

जरूर पढ़े – छोटी बड़ी बीमारियों को ठीक करने के लिए दादी माँ के एक हज़ार से भी जादा असरदार घरेलू नुस्खे  

जरूर पढ़े– हल्दी वाले दूध के 11 बेहतरीन फायदे| कब ?- कैसे ?- और कितना use करना है |

turmeric

 

राममूर्ति नायडू | Rammurthy Naidu

जरूर पढ़े – बासी  रोटी खाने के ज़बरदस्त फायदे  

best 20 giloy ke fayde | giloy benefits hindi

यहां click करे- जानिए कितना खतरनाक  है चक्की से पिसा हुआ आटा ? 

multigrain-wheat-benefits

benefits-of-honey

 

इन्हे भी पढ़ें

 

Advertisement
Advertisement

Leave a Comment