turmeric benefits हल्दी के चमत्कारी फायदे

turmeric benefits हल्दी के फायदे – हल्दी (turmeric) एक बहुत ही गुणकारी खाद सामग्री हैं. जो की हजारों सालो से अलग अलग प्रकार से उपयोग मे लाई जा रही है | हल्दी (turmeric) ना सिर्फ आपने औषधीय गुणों की वजह से लोगो मे जानी जाती हैं बल्कि यह अपनी धार्मिक मान्यताओं के आधार पर भी लोगो मे बहुत प्रचलित हैं. हिन्दू धर्म मे हल्दी (turmeric) को बहुत शुभ माना गया हैं इसलिए हल्दी का प्रयोग पूजा पाठ एवम शादी विवाह जैसे शुभ कार्यों मे भी किया जाता हैं.

 

हल्दी (turmeric) और हल्दी के पत्ते दोनों  ही अपने गुणकारी प्रभाव के चलते बड़े ही उपयोग मे लाए जाते है | आज हम इन दोनों के सही उपयोग के बारे मे बताएँगे |

 

 

कैसी होती हैं हल्दी – (turmeric)

हल्दी (turmeric) एक प्रकार की जड़ होती हैं हैं जो की मिट्टी के नीचे उगती हैं ठीक उसी प्रकार जैसे गाजर, मूली और शलगम. हल्दी दिखने मे पीले रंग की होती हैं.  हल्दी (turmeric)मे मौजूद कुमिक अम्ल की वजह से इसका रंग पीला होता है जो की बहुत गुणकारी होता है |

 

हल्दी (turmeric) अदरख के परिवार का ही हिस्सा हैं जिस वजह से इसकी बनावट भी अदरख जैसी होती हैं. इसके पत्ते हरे रंग के चौड़े और लम्बे होते हैं. जैसा की आप नीचे चित्र मे देख पर रहे हैं.

 

हल्दी को अंग्रेजी मे टरमरिक ( turmeric) और वैज्ञानिक भाषा मे इसे कारकुमा लौंगा के नाम से जाना जाता हैं.

 

हल्दी-turmeric-benefits
turmeric plant

 

 

हल्दी  एक प्रकार की औषधीय फसल है जिसे  पूरी तरह तैयार होने मे 12 से 15 महीनो का वक्त लग जाता है | जब यह पाक कर तैयार हो जाती है तो यह कुछ इस प्रकार दिखाई देती है जैस अकि आप नीचे image मे देख प रहे है |

 

turmeric

benefits of turmeric हल्दी के चमत्कारी फायदे

 

 

कहाँ कहाँ उपयोग मे लाई जाती है हल्दी – uses of turneric

 

हल्दी का पहला उपयोग- first use of turmeric-

  • हल्दी (turmeric) आपने गुणकारी गुणों की वजह से यह कई चीजों मे इस्तेमाल की जाती हैं. हल्दी का उपयोग सबसे अधिक रसोई घर मे या फिर पार्टियों मे भिन्न भिन्न प्रकार व्यंजन मे  किया जाता हैं.

 

  • रसोई घरों मे हल्दी का उपयोग अधिकतर एक मसालों के रूप मे  भिन्न भिन्न प्रकार के व्यंजन मे किया जाता है |

 

  • इसकी तासीर और गुणवत्ता को ध्यान मे रखते हुए ही इसका प्रयोग कई प्रकार के व्यंजन मे एक सिमित मात्रा मे किया जाता हैं.

 

  • हल्दी डालने से व्यंजन एक पोस्टिक आहार मे बदल जाता, कई व्यंजन मे इसका उपयोग पीला रंग लाने लाने के लिए किया जाता हैं.

 

हल्दी का दूसरा उपयोग- second use of turmeric-

  • हल्दी मे कई सारे  एसे औसधीय गुण विद्दमान होते है  जिस वजह से इसका उपयोग  ओषधि के रूप मे भी = सबसे अधिक किया जाता हैं.

 

  • एक तरफ जहाँ इसका उपयोग चोट, धाव, दर्द, और सूजन को ठीक करने मे किया जाता हैं. वही दूसरी तरफ इसका उपयोग कई प्रकार की औषधियां बनाने मे तथा कई प्रकार की बिमारियों को ठीक करने मे किया जाता हैं.

 

 

हल्दी का तीसरा उपयोग -third use of turmeric-

इसका तीसरा उपयोग कई प्रकार के सुंदरता साधनों (beauty products) को बनाने और चेहरे की सुंदरता को बढ़ाने के रूप मे भी किया जाता हैं.

 

 

हल्दी का चौथा उपयोग- fourth use of turmeric-

हल्दी का चौथा उपयोग धार्मिक कार्य कर्मो मे किया जाता क्योंकि हिन्दू धर्म मे हल्दी को शुभ माना गया हैं.

 

 

चलिए अब विस्तार से जानते हैं हल्दी के फायदे और इसका उपयोग करने का सही तरीका.

 

 

हल्दी वाला दूध पीने से कैसे मुंह की त्वचा चमकदार और गोरी दिखने लगती ? क्या है हल्दी वाले दूध का राज क्या है हल्दी वाला दूध बनाने का और पीने का सही तरीका जानिए हल्दी वाले दूध के 11 बेहद चमत्कारी फ़ायदों के बारे मे | benefits of turmeric milk 

 

turmeric

 

जब हल्दी (turmeric) को दूध मे डाला जाता हैं तो हल्दी (turmeric) के फायदे दोगुना हो जाते हैं.

दो मुख्य वजह  एसी है जिसमे हल्दी (turmeric) दूध का सेवन अत्यधिक किया जाता है |

 जब भी शरीर पर कोई चोट लगती हैं तो उस चोट की वजह से घाव हो जाता हैं तो ऐसे मे हल्दी दूध पीने से घाव जल्दी भर जाता हैं और दर्द मे भी राहत मिलती हैं . क्यों की हल्दी मे एंटीबायोटिक गुण पाए जाते हैं जिस वजह से घाव ठीक हो जाता हैं.

हल्दी वाला  दूध (turmeric milk) पीने से इम्युनिटी पवार बढ़ती हैं.

 

 

ऐसा क्या होता हैं हल्दी (turmeric) मे जो यह इतना गुणकारी होता हैं?

 

हल्दी (turmeric) मे एंटीबैक्टीरियल, एंटी फंगस और एंटीबायोटिक गुण पाए जाते हैं. इसके इलावा एक वैज्ञानिक शोध के अनुसार इसमें करक्यूमिन होता हैं, जो कैंसर को ठीक करने मे बहुत लाभकारी होता हैं.

हल्दी (turmeric) की तासीर गर्म होती हैं. एक शोध मे पाया गया की 30 ग्राम हल्दी मे 28%आयरन और 18% मैग्नीशियम होता हैं.

इसके इलावा हल्दी(turmeric) मे विटामिन B-6, फाइबर, विटामिन c, पोटैशियम, एंटी इंफ्लेमेंटरी व एंटीऑक्सीडेंट का अच्छा स्त्रोत माना जाता हैं.

 

हल्दी (turmeric) मे एंटीबैक्टीरिया और एंटीफ़ंगल तत्व होते है जिस वजह से घाव और सूजन जल्दी भर जाते है। हल्दी मे प्रोटीन, फाइबर, विटामिन सी, विटामिन ए,पोटाशियम, कैल्सियम ,कॉपर, आयरन, मैग्नीशियम, व ज़िंक, होता है। जिसके चलते यह इतना गुणकारी है की इसे आयुर्वेद मे उच्च स्थान प्राप्त है |

ये है हल्दी के लाभ- benefits of turmeric

दर्द और सूजन को ठीक करे :- turmeric recover Pain and swelling
मोच आने पर या मासपेशियों मे खिचाव आने पर, या हड्डी टूटने पर या किसी तरहा की चोट से सूजन आने पर उस जगहा पर हल्दी (turmeric) के लेप बाँड्ने पर तुरंत दर्द मे राहत मिलती है और सूजन ठीक हो जाती है |
इसके इलवा कच्ची हल्दी वाला दूध पीने से घाव और बीमारी जल्दी ठीक होती है क्यो की कच्ची हल्दी मे एंटीबेक्टीरिया और एंटीफ़ंगल गुण अधिक होते है ।
pain
कैंसर से बचाने में हल्दी लाभदायक – turmeric benefits for cencer 
एक स्टडी में पाया गया है कि हल्दी में जो यौगिक मौजूद होता है उसमें कैंसर रोधी गुण पाये जाते हैं। 100 से 200 मिलीग्राम हल्दी का प्रतिदिन सेवन करने से कैंसर होने की संभावना काफी हद तक कम हो जाती है।
कैंसर के रोगियों को हल्दी का सेवन करने से उनके इम्यून सिस्टम के रसायन कैंसर कोशिकाओं को नष्ट करने के लिए अधिक क्रियाशील  हो जाते हैं। हल्दी कैंसर के जीवाश्म को बढ़ने से रोकता है और कीमोथेरेपी को अधिक प्रभावी बनाने में मदद करता है।
turmeric benefits for skin-

कई तरह से त्वचा के देखभाल के लिए फायदेमंद होता है। यह पिंपल पैदा करने वाले बैक्टीरिया को मारता है और सिबेसियस ग्लैंड से ऑयल के स्राव को कम करता है जिसकी वजह से त्वचा पर मुंहासे नहीं होते हैं।

 

हल्दी (turmeric) मुंहासे के दाग धब्बों को भी दूर करता है। हल्दी में कुरकुमिन (curcumin) नाम का यौगिक पाया जाता है और यह एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है जो बढ़ती उम्र के लक्षणों को दूर करने में सहायता करता है।

ज्यादातर घरों में घरेलू नुस्खों के रूप में त्वचा पर निखार लाने के लिए हल्दी का उपयोग किया जाता है।

 

turmeric

 

चलिये जानते है हल्दी (turmeric) से बने इन 3 turmeric beauty face pack मे ऐसा क्या खास होता है जिस वजह से यह मुंह की त्वचा (skin) की सभी बीमारियों को खत्म कर skin को फिर से ना सिर्फ पहले जैसा बल्कि और भी साफ और आकरसक बना देता है ?

 

हल्दी (turmeric) से बने इस turmeric beauty face pack मे जो भी खास होता है वो सिर्फ हल्दी का कमाल होता है जिसके अंदर कई सारे ऐसे औसधीय गुण मौजूद होते है जो स्किन को अंदर तक रिपेयर कर देता है | 

बस इसे बनाने और लगाने का तरीका तथा  समय सही होना चाहिए | जिससे आप इसके गुणो का भरपूर फाइदा उठा पाएंगे |

वजन घटाने में हल्दी के फायदे – turmeric for weight lose-
हल्दी (turmeric) शरीर के मेटाबोलिक रेट को बढ़ाने में मदद करता है जिसकी वजह से शरीर की अतिरिक्त कैलोरी घटने लगती है और कैलोरी घटने से वजन भी कम होने लगता है।
हल्दी (turmeric) लीवर के लिए भी फायदेमंद होता है। हल्दी में मौजूद कुरकुमिन (curcumin) नाम का यौगिक कोलेस्ट्रॉल को घटाता है और यह मांसपेशियों के लिए मसाज के रूप में काम करता है|
हल्दी के लाभ डिप्रेशन में – turmeric benefits for depression
एक रिसर्च में यह पाया गया है कि हल्दी(turmeric) शरीर में हार्मोन के संतुलन को बेहतर बनाता है और यह डिप्रेशन, मूड स्विंग और चिंता एवं तनाव को कम करने में बहुत मदद करता है।
इसलिए डिप्रेशन से गुजर रहे व्यक्तियों को हल्दी का सेवन किसी न किसी रूप में जरूर करना चाहिए।

 

हल्दी के फायदे मासिक धर्म में – benefits of turmeric for periods
अगर आपको मासिक धर्म में बेचैनी होती है तो इस स्थिति में हल्दी (turmeric) का सेवन बहुत ही फायदेमंद होता है। इसके अलावा मासिक धर्म के दौरान ऐंठन, सूजन, अत्य़धिक रक्तस्राव और मूड स्विंग
होने जैसी परेशानियों को भी हल्दी (turmeric) तुरंत ठीक कर देता है। हल्दी जड़ी-बूटी का काम करती है और माहवारी के दौरान सभी लक्षणों को दूर करने में बहुत उपयोगी होती है।
turmeric benefits for hair-
मजबूत और लंबे बालो के लिए हल्दी के फायदे-
जैसे हल्दी (turmeric) त्वचा की मरम्मत में लाभ पहुंचाती है, यह उन समस्याओं को ठीक करने में भी मदद कर सकती है जो आप अपनी खोपड़ी पर अनुभव कर रहे हैं।
long hair
वास्तव में, प्राकृतिक बाल विशेषज्ञ और प्रमाणित ट्राइकोलॉजिस्ट प्रमुख टिफ़नी एंडरसन का कहना है कि हल्दी में बालों के झड़ने को रोकने की क्षमता होती है जो कुछ स्कैल्प संक्रमणों और रूसी से आती है। “आपके बाल और खोपड़ी आपको संकेत देते हैं कि आपको पता है कि कुछ सही नहीं है, जिनमें से पहला खुजली है,” वह कहती है।
“यदि आप खुजली को अनदेखा करते हैं, तो बाल शेड करना शुरू कर देंगे, और जब आप शेडिंग को अनदेखा करेंगे तो बाल पतले होने लगेंगे।” DIY स्कैल्प उपचार के लिए, चिसानो एक मिश्रण की सलाह देता है जिसमें बराबर भाग हल्दी (turmeric) और जैतून का तेल होता है।
उन्होंने कहा, “इसे 15 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर कुल्ला करें।” “एक प्राकृतिक शैम्पू के साथ पालन करें।” 10 सबसे अधिक चिकित्सा जड़ी बूटियों और मसालों के बारे में जानें।

रूसी का इलाज(Haldi Se Dandruff ka ilaaz) | Turmeric Benefits For Dandruff

हल्दी (turmeric) जीवाणुरोधी, एंटीऑक्सिडेंट गुणों से भरी हुई है जो रूसी के इलाज में मदद करती है| आपको सिर्फ जैतून के तेल में थोड़ी सी हल्दी डालकर एक मिश्रण बनाना है|

Dandruff

अपने सिर पर इस मिश्रण को लगाएं और इसे कुछ समय के लिए छोड़ दें। बाद में पानी के साथ अपने बालों को धो लें।इससे आपके बालों की रुसी कम होगी और आपका रक्त परिसंचरण तेज होगा और आपके बालों के विकास में सुधार होगा|

 

डैंड्रफ स्कैल्प की सबसे आम समस्या है जिसके बाद बालों का झड़ना शुरू हो जाता है। यह एक अजीब स्थिति है जो अक्सर खुजली और फ्लेकिंग का कारण बनती है।

 

हल्दी (turmeric) में एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं जो स्कैल्प को साफ करने की क्षमता रखते हैं जिससे रूसी का जमा होना कम किया जा सकता है। इसके अलावा यह खून के दौरे को तेज़ करती है और त्वचा के डेड सेल्स के बनने को भी रोकती है।

 

बालों के झड़ने की रोकथाम(Haldi Se hair fall treatment) | Turmeric Benefits for Hair Loss

 

 

 

बालों की देखभाल के लिए इस अद्भुत जड़ी बूटी को शामिल करने से बाल विकास को प्रोत्साहित करने और बालों को झड़ने से रोकने के लिए मदद मिलती है| कच्चे दूध में हल्दी डालकर एक मिश्रण तैयार कर लें| यदि आपके बाल रूखे हैं

 

तो आप इस मिश्रण में 2 चम्मच शहद (turmeric) मिला सकते हैं। अब धीरे से अपने सिर पर मालिश करें और हल्के शैम्पू के साथ अपने बालों को धो लें| सर्वोत्तम परिणामों के लिए, यह उपाय सप्ताह में दो बार करें और लंबे चमकदार बालों का आनंद उठाएं।

 

बालों के झड़ने का इलाज़ है हल्दी (turmeric)

बालों का झड़ना खराब आहार, हार्मोनल विकार या स्ट्रेस जैसे कई कारणों से हो सकता है। बालों के झड़ने को रोकने का सबसे अच्छा तरीका बालों की देखभाल के लिए हल्दी का उपयोग करना है क्योंकि यह बालों के विकास को उत्तेजित करता है और कंडीशनर के रूप में भी काम करता है।

 

 turmeric

 

 

कैसे इलाज करें: हल्दी (turmeric) को बराबर मात्रा में शहद और दूध के साथ मिलाएं और इस मिश्रण को अपने स्कैल्प पर लगाएं। धीरे से मालिश करें और कुछ समय बाद अपने बालों को माइल्ड शैम्पू से अच्छी तरह से धो लें। आप इसे सप्ताह में दो बार कर सकते हैं। इसके अलावा आप बालों के विकास के लिए हल्दी के मास्क का उपयोग भी कर सकते हैं।

हल्दी के गुण दर्द निवारक के रूप में :– benefits of turmeric for painkiller
प्राकृतिक दर्दनिवारक(painkiller) का भी काम करता है। यह अर्थराइटिस के दर्द से निजात दिलाने में भी बहुत सहायक है।
हल्दी (turmeric) सर्कुलेशन को भी बेहतर बनाने में मदद करता है जो कि दर्द से राहत दिलाने में फायदेमंद होता है। दो चम्मच हल्दी (turmeric) को पानी में मिलाकर पेस्ट बनाकर प्रभावित जगह पर लगाने से दर्द और सूजन कम हो जाती है।
benefits of turmeric
फटी एड़ियों के लिए हल्दी है फायदेमंद – turmeric benefits-
हल्दी (turmeric) के कसैले गुण के कारण यह पैरों की फटी एडियों को ठीक करने में बहुत सहायक होता है। अरंडी के तेल (castor oil) में बराबर मात्रा में
कोकोनट का तेल मिलाएं और इसमें एक चम्मच हल्दी मिलाकर इस पेस्ट को पैरों की फटी एड़ियों पर 15 मिनट तक लगाकर रखें फिर ठंडे पानी से धो लें। जल्द ही फर्क महसूस होगा।
हल्दी के फायदे रूसी खत्म करने  के लिए :- turmeric for dendraf
ऑलिव ऑयल में हल्दी मिलाकर बालों में लगाने से बालों में रूसी की समस्या खत्म हो जाती है और बाल जड़ से मजबूत होते हैं। हल्दी (turmeric) और ऑलिव ऑयल को बराबर मात्रा में मिलाकर सिर में अच्छे से लगाएं और 20 मिनट बाद बालों में शैंपू कर लें, रूसी से निजात मिल जाएगी।

 

roosi

 

 

 

 

 

healthtips in hindi

 

घरेलू नुसख़ों पर आधारित बेहद ज़रूरी और अद्भुत जानकारियाँ – आप भी आज़माए

 

जरूर पढ़े  – आयुर्वेदिक उपचार(treatment) -health tips- beauty tips और घरेलू उपचार एवम कारगर नुस्खे

 

राममूर्ति नायडू | Rammurthy Naidu

 

यहाँ click करे – बासी  रोटी खाने के ज़बरदस्त फायदे  यह article पूरा पढ़ने के बाद कभी नहीं फेंकोगे बासी रोटी जानिए क्या सही तरीका बासी रोटी खाने का ?

 

 

 

यहां click करे- जानिए कितना खतरनाक है चक्की से पिसा हुआ आटा ? यह भी जानो की क्या होता है मल्टीग्रेन आटा ? यह कैसे तैयार होता है ? और यह स्वास्थ्य के लिए कितना लाभकारी होता है ?

multigrain-wheat-benefits

 

 

hindi stories with moral |100 रोचक कहानियाँ

 

 

यहां click करे- आज से ही खाना बंद कर दो चीनी | sugar| यदि आप भीचीनी से बनी हुई या फिर direct चीनी दल केआर उसे पी  रहे हो या खा रहे हो तो हो जाओ सावधान |इस article मे  चीनी के सेवन से शरीर पर होने वाले हानिकारक प्रभाव के बारे मे आपको बताया गया है ।  इसके इलवा मिठास के लिए आप चीनी की जगह पर आप क्या क्या उपयोग कर सकते है उसके बारे मे भी बताया गया है ……………. 

 

shugar

 

यहां click करे- हल्दी के हैरान कर देने वाले फायदे | benefits of turmeric| कब ?- कैसे ?- और कितना use करना है | चमकती हुई त्वचा – सांवला पैन दूर – 120 बीमारिया करे दूर –  इसके लिए जान इसे लो कब ? – कैसे ?- कितना ?- खाना है – लगाना है – – और पीना है वरना फायदे की जगह हो जाएगा नुकसान 

 

 

यहां click करे- हल्दी वाले दूध के 11 बेहतरीन फायदे| कब ?- कैसे ?- और कितना use करना है | चमकती हुई त्वचा – सांवला पैन दूर – 120 बीमारिया करे दूर –  इसके लिए जान इसे लो कब ? – कैसे ?- कितना ?- खाना है – लगाना है – – और पीना है वरना फायदे की जगह हो जाएगा नुकसान 

turmeric

यहां click करे- रोज सुबह पानी में हल्‍दी मिलाकर पीने के हैं ये फायदे-Turmeric milk benefits| इसके लिए जान इसे लो कब ? – कैसे ?- कितना ?- खाना है – लगाना है – – और पीना है वरना फायदे की जगह हो जाएगा नुकसान 

 

 

benefits-of-honey

 

 

यहां click करे-सेब को कब और कैसे खाने से उसके अनंत फायदे का लाभ उठा सकते है | साथ मे जादा सेब खने के नुकसान भी जानिए  | सेब ,apple खाने के फायदे benefits of apple for skin| 

 

यहां click करे-एलोवेरा भरपूर फाइदा उठाने के लिए इसका  सही उपयोग जान लें | कब? – कितना?  और कैसे करना करना चाहिए  एलोवेरा का उपयोग ? साथ मे जानिए एलोवेरा के नुकसान के बारे मे भी | best use of aloe vera benefits

 

यहां click करे-   जानिए एलोवेरा का सही उपयोग कैसे किया जाता है | कब ?- कितना? – और कैसे लगाना चाहिए ?|   कब ?- कितना? – और कैसे   खाना चाहिए ? |best use of alovera | Benefits of aloevera|

 

यहां click करे-सर्दी जुकाम के उपचार के 10 आसान  घरेलु उपाय

यहां click करे-  HEART ATTACK TREATMENT IN INDIA| 

 

यहां click करे-माइग्रेन के घरेलू उपचार | Migraine home remedies treatment

 

यहां click करे- खांसी के घरेलु उपाय – Herbal Home Remedies For Cough.

 

 

यहां click करे-   एलोवेरा  को गलत तरीके से use करने   के नुकसान |साथ मे जानिए कैसे करना है इसका सही उपयोग लगाने का सही तरीका कब और कितना ? – Side Effects of Aloe Vera in Hindi

 

यहां click करे- एलोवेरा के 20 जबरदस्त फायदे Aloe Vera|इसे लो कब ? – कैसे ?- कितना ?- खाना है – लगाना है – – और पीना है वरना फायदे की जगह हो जाएगा नुकसान 

 

यहां click करे- झड़ते बालो, गंजेपन  का आयुर्वेदिक उपचार| झड़ते बालो, गंजेपन की समस्या से छुटकारा |

 

यहां click करे-  जाने तुलसी के अनंत औषधीय गुण- basil benefits| 120 बीमारियों को खत्म करता है तुलसी | जानिए तुलसी के पत्तों को कैसे? – कब?- और कितना? – use करना होता है किन किन ? छीजो मे use करना होता है | साथ मे जाने तुलसी के गलत तरीके से उपयोग करने के नुकसान 

 

यहां click करे- गुड़ और चने के चमत्कारी फायदे | जानिए  गुड़ और चना कितना चमत्कारी है शरीर के लिए |कब ? कैसे ?- और कितना? खाना चाहिए |

 

यहां click करे-  अंकुरित चने के चमत्कारी फायदे | sprouted chickpeas| कब ? कैसे ?- और कितना? खाना चाहिए |

 

यहां click करे- नीम के धार्मिक और औषधीय गुण.| 150 बीमारियो को खत्म करता है | कब ? कैसे ?- और कितना?  use करना चाहिए

 

 

जरूर पढ़े – कितना लाभदायक ऊंटनी का दूध || ऊंटनी के दूध फायदों के बारे मे जानकर हैरान हो जाएंगे || संसार तक को ठीक कर दे || आखिर इतना महंगा क्यों मिलता?

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!