gale ki kharash ka ilaj असरदार घरेलू नुस्खा

gale ki kharash ka ilaj -नमस्कार दोस्तो ! एक बार फिर से स्वागत है आप सनही का असरदार घरेलू नुसखी की इस पोस्ट मे |आज हम आप के लिए है एक ऐसा घरेलू नुस्खा जो आपके ग्ले को ख़ासी खरास जैसी समस्या से तुरंत निजात दिलवाएगि |

Advertisement

अचानक से मौसम बदलने या गलत खान पान की वजह से कई बार

  • गले मे जो खरास बन जाती है  ,
  • गला खिस खिस होने लगता है
  • या फिर थूक निगलने पर गले मे तीखा पन, जलन या दर्द महसूस होता हो
  • या हल्की ख़ासी हो,

तो ऐसे मे एक ऐसा घरेलू नुस्खा है  गले की इन सभी समस्याओं से तुरंत निजात दिलवाएगा |

तो चलिये बिना देरी किए अब उस नुस्खे के बारे मे जानते है |

 

जबर्दस्त घरेलू नुस्खा | gale ki kharash ka ilaj 

 

 

👉इस नुस्खे का नाम है भूनी अदरख.

  1. सबसे पहले एक अदरख लीजिये.
  2. अब उस अदरख को अपने हाथ के अंगूठे के नाख़ून के बराबर चाकू से काट लीजिये.
  3. अब उस अदरख को पूरी तरह से नमक मे डूबा दो यानी अच्छे नमक लगा लो.
  4. अब अदरख के इस छोटे से पीस को एक चाकू की नोक के आगे अच्छे से लगा लो.
  5. अब इस अदरख को गैस की धीमी आंच के ऊपर रखो. और लगभग 5 मिनट तक चाकू की मदद से घुमा घुमा कर आग के ऊपर अच्छे से भून लो.
  6. ज़ब अदरख चारो तरफ से थोड़ा थोड़ा काला हो जाए तो गैस बंद कर दो.
  7. अब 20 सेकेण्ड तक अदरख को थोड़ा सा ठंडा होने दीजिये. उसके बाद अदरख को चाकू से निकाल कर तुरंत मुंह मे रख लो.
  8. लेकिन ध्यान रहे, अदरख को दाँत के नीचे दबा कर कूचना नहीं है. बस हल्का हल्का चूसते रहना है.
  9. ज़ब राल के साथ भुने हुए गर्म अदरख का ये रस मिलकर गले मे जाएगा तो कुछ ही देर मे गले की खराश से छुटकारा मिल जाएगा.

 

ध्यान देने वाली बातें 

  1. ध्यान रहे, इस नुस्खे के सेवन करने के बाद दो घंटे तक  पानी बिलकुल भी नहीं पीना है. वरना गला जकड़ जाएगा.
  2. इस नुस्खे के सेवन के बाद दो घंटे तक किसी भी खाने वाली चीज का सेवन न करे |

 

सेवन करने का सही समय कौन सा है ?

इस नुस्खे का भरपूर फाइदा उठाने के लिए 24 घंटे मे तीन  बार सेवन करना है |

पहला सेवन सुबह ब्रश करने के बाद |

दूसरा सेवन शाम को

तीसरा सेवन रात सोने से पहले |

 

👉gale ki kharash ka ilaj का ये नुस्खा हमारे परिवार मे दादी नानी  के समय से चलता आरहा है. जो की बहुत ही असरदार है.

 

👉अदरख अपने एंटीबैक्टीरियल गुणों से भरपूर होता है. जिसका उपयोग कई चीजों मे किया जाता है. भोजन मे सबसे ज़ादा.

Advertisement

👉अदरख की तासीर गर्म होती है.

 

यदि कोई व्यक्ति गले की खांसी जैसी समस्या से लंबे समय से जूझ रहा है तो उसके लिए 6 तत्वो से बना एक ऐसा घरेलू असरदार आयुर्वेदिक नुस्खा है जो आपको  एसी समस्या से एक महीने मे ही आराम पहुंचा देगा खत्म के देगा हर प्रकार की खांसी को |

 

खांसी आने की मुख्य वजह –

  1. कई बार गलत खान पैन की वजह से खांसी की समस्या पैदा हो जाती है | जैसे  एक दम से कुछ ठंडा गरम खाने पीने से  गले मे खीस खीस ,गला दर्द ,जकड़न हो जाती है असल मे ये प्रकार के टोकसीन्स ही होते है जो एक स्थान पीआर आकार जमा हो जाते है  जिस वजह से खांसी का आना आम बात है |
  2. कई बार हवा मे फैली भारी मात्रा मे धूल (डस्ट)  सांस के माध्यम से हमारे गले मे प्रवेश करती है और वहीं जम जाती है जिस वजह से धीरे धीरे छाती मे बलगम बनना शुरू हो जाता है जिसे हम कफ कहते है | इस वजह से भी खांसी का लगातार आना लाज़मी हो जाता है | एसे मे रुक रुक कर ख़ासी आती है बोने और लंबी सांस लेने मे भी ख़ासी आती है |

 

 

gale ki kharash ka ilaj – ये जानकारी आपको अच्छी लगी हो तो कमेन्ट  जरूर करना और शेयर करना ताकी बाक़ी लोग भी इस नुस्खे का फायदा उठा सकें. 🙏

हमारे इस ब्लॉग मे घरेलू नुस्खो को लेकर तमाम पोस्ट पढ़ने के लिए घरेलू नुस्खो वाली केटेगरी मे जाए |हम अपने इस ब्लॉग पर स्वास्थ्य से संबन्धित पोस्ट डालते रहते है |

 

immunity-power-kaise-badhaye 

जरूर पढ़े – शरीर को स्वस्थ,मजबूत ,और सुंदर बनाने के लिए एक हज़ार से भी जादा हैल्थ एवं निरोगी टिप्स

जरूर पढ़े – छोटी बड़ी बीमारियों को ठीक करने के लिए दादी माँ के एक हज़ार से भी जादा असरदार घरेलू नुस्खे  

जरूर पढ़े– हल्दी वाले दूध के 11 बेहतरीन फायदे| कब ?- कैसे ?- और कितना use करना है |

turmeric

 

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *