PHD ka full form kya hai | phd kaise karen

यदि आप जानना चाहते है की PHD ka full form kya hai? तो आप बिलकुल सही जगह पर आए हो. क्योंकि यहां अब पीएचडी (PHD) से जुड़ी और भी तमाम जरुरी सभी जानकारियों से अवगत हो जाओगे.

 

आज हम जानेंगे की PHD ka full form kya hai?

  • PHD क्या है ?
  • PHD क्यो की जाती है ?
  • PHD कैसे की जाती है ?
  • PHD कितने साल की होती है ?
  • PHD करने के लिए किन किन दस्तावेज़ो की ज़रूरत पड़ती है ?
  • PHD करने के क्या फायदे होते है ?
  • पीएचडी के बाद कितनी सैलरी मिलती है |

आज हम इन सभी सवालों के जवाब आसान तरीके से विस्तार मे समझेंगे.

 


तो चलिए सबसे पहले जानते है –

 

PHD ka full form kya hai?

Ph.D. का full form है – doctor of philosophy.

Phd की यह full form शार्ट form से मेल नहीं खाती लेकिन यही इसकी सही full form है डॉक्टर ऑफ़ फ़िलोसिफी.

Advertisement

Phd को doctorate of philosophy के नाम से भी जाना जाता है.

इसके इलावा पीएचडी को D.Phill या doctor phil के नाम से भी जाना जाता है.

 

तो दोस्तों यह तो आप समझ गए की PHD ki full form kya hai? चलिए अब जानते है, आखिर पीएचडी होती क्या है?

 

PHD क्या  है?

phd एक प्रकार की उच्च स्तरीय शिक्षा है जिसमे किसी एक विषय का चुनाव करके उसी विषय की गहराई से रिसर्च (अध्ययन) करते हुए जानकारियां हासिल की जाती है.

 

अतः किसी एक विषय के ज्ञान पर पर महारथ हासिल करने के लिए ही पीएचडी की जाती है.

 

यदि कोई व्यक्ति पीएचडी की शिक्षा पूरी कर लेता है तो उस व्यक्ति के नाम से पहले Dr. (डॉ) शब्द लग जाता है.

Advertisement

Dr. यानी doctor (डॉक्टर). किसी व्यक्ति के नाम के आगे लगने वाला यह शब्द उस व्यक्ति की उच्च स्तरीय शिक्षा (education) को दर्शाता है.

 

इस तरह किसी के नाम से पहले लगने वाला dr शब्द एक बड़े सम्मान और गरिमा का प्रतीक होता है. 

 

किसी के नाम के आगे डॉक्टर शब्द तभी लगता है ज़ब उस व्यक्ति ने या तो MBBS की पढ़ाई पूरी की हो या फिर पीएचडी की पढ़ाई पूरी की हो.

 

उदाहरण के तौर पर भारत मे पीएचडी किये हुए कई महान लोग जैसे,

  • डॉ. अब्दुल कलाम,
  • डॉ. भीम राव अम्बेडकर,
  • डॉ जाकिर हुसैन,
  • डॉ. CV रमन.

 

इन सब के नाम के आगे डॉ शब्द लगा कर इन्हे सम्बोधित किया जाता है.

 

तो दोस्तों यह तो आप समझ गए की पीएचडी क्या होती है? चलिए अब जानते है phd क्यों और कैसे की जाती है?

 

PHD (पीएचडी) क्यों की जाती है?

 

जैसा की ऊपर बताया गया था की किसी एक विषय के ज्ञान पर पर महारथ हासिल करने के लिए ही पीएचडी की जाती है अतः पीएचडी करने का मूल मकसद यही होता है.

 

इसके इलावा लोगो का मकसद ऐसी उच्च स्तरीय शिक्षा प्राप्त करके जीवन मे किसी अच्छी यूनिवर्सिटी मे प्रोफ़ेसर के पद को हासिल करना भी होता है.

 

समाज और परिवार मे सम्मान भी बढ़ता है.

 

पीएचडी के बाद बड़ी बड़ी नौकरियों के लिए आवेदन करने की पात्रता (eligibility) प्राप्त हो जाती है. जो व्यक्ति पीएचडी की शिक्षा पूरी कर लेता है वो बहुत आसानी से देश मे या विदेश मे उच्च स्तर पर नौकरी हासिल कर सकता है.

Advertisement

अतः इन्ही तमाम मकसद के साथ लोग पीएचडी करते है.

 

जीवन मे शिक्षा प्राप्त करने का मतलब धन अर्जित करना नहीं होता. शिक्षा से प्राप्त ज्ञान से अपने जीवन को समृद्ध बनाना और देश को समृद्ध बनाने मे अपना योगदान देना ही शिक्षा का सही मतलब होता है.

 

अतः शिक्षा प्राप्त करने का प्राथमिक उदेश्य कभी भी धन कमाना अमीर बनना नहीं होना चाहिए. 

 

पीएचडी (PHD) कैसे की जाती है?

जिस प्रकार किसी भी बड़े कार्य को करने के पीछे का उद्देश्य स्पष्ट होना चाहिए ठीक उसी प्रकार आप पीएचडी क्यों करना चाहते हो इस सवाल का जवाब आपके पास अवश्य होना चाहिए.

यानी आपका एक बड़ा उदेश्य होना चाहिए. इसलिए पीएचडी की शिक्षा आरम्भ करने से पहले उदेश्य बनाओ.

 

उसके बाद जिस भी विषय पर आप phd करना चाहते है सबसे पहले उस एक विषय का चुनाव करें.

 

विषय का चुनाव कैसे करें?

PHD-KYA-hai

जिस विषय मे आपको बहुत ज़ादा और अच्छी जानकारी है तो उस विषय का चुनाव phd के लिए करें. लेकिन ध्यान रहे उस विषय मे आपकी रूचि का होना सबसे अधिक महत्त्व रखता है.

इसलिए किसी भी विषय का चुनाव करते समय उस विषय पर अपनी रूचि को ध्यान मे रखते हुए ही विषय का चुनाव करें,.

 

उदाहरण के तौर पर मुझे जीव जंतुओं के बारे मे जानना बहुत पसंद है उन जीवो पर शोध करना पसंद है तो मै जीव विज्ञानं विषय को पीएचडी करने के लिए चुनूंगा.

 

Phd के लिए विषय 

लोग निम्नलिखित विषयों पर पीएचडी कर चुके है और कर रहे है.

  1. जीव विज्ञानं मे पीएचडी
  2. एग्रीकल्चर मे पीएचडी
  3. स्वास्थ्य विज्ञानं मे पीएचडी
  4. मनो विज्ञानं पर पीएचडी
  5. अंग्रेजी में पीएचडी
  6. सामाजिक कार्य में पीएचडी
  7. रसायन विज्ञान में पीएचडी
  8. भौतिकी में पीएचडी
  9. बायोसाइंस में पीएचडी
  10. वाणिज्य प्रबंधन में पीएचडी
  11. पीएचडी व्यवसाय प्रशासन
  12. कानून में पीएचडी

जैसे और भी तमाम विषय होते है. आपको जिस विषय पर अच्छी जानकारी है उसी का चुनाव करें.

 

Advertisement

पीएचडी कितने साल की होती है?

दोस्तों इसके लिए कोई समय अंतराल निश्चित नहीं है यह आपके ऊपर निर्भर करता है की आप पीएचडी कब तक पूरी कर लेते हो.  वैसे पीएचडी 5 से 6 साल के बीच ही पूरी की जाती है. लेकिन समय इससे अधिक भी लग सकता है यह आपकी मेहनत और जीवन की परिस्थितियों पर निर्भर करता है. कुछ लोग 10 साल मे होनी पीएचडी पूरी कर पाते है.

 

पीएचडी किस शिक्षा संस्थान से करें / पीएचडी के लिए collage /यूनिवर्सिटी

पीएचडी का कोर्स यानी पीएचडी की शिक्षा देने वाले बहुत से प्राइवेट और सरकारी कॉलेज मौजूद है.

सरकारी कॉलेज /यूनिवर्सिटी मे प्राइवेट कॉलेजो के मुकाबके बहुत कम फीस देनी पढ़ती है.

मै आपको कुछ प्रतिष्ठित शिक्षा संस्थानों की लिस्ट देता हु जहाँ पीएचडी की डिग्री दी जाती है.

 

  1. (Jnu) Jawaharlal Nehru university,
  2. Delhi University, 
  3. Banaras hindu university 
  4. Jamia millia islamia university,
  5. Aligarh muslim university,
  6. Indian Institute of science –
  7. University of mumbai

 

इन सभी शिक्षा संस्थानों मे आपको पीएचडी की एडमिशन लेने ले लिए पहले एक एंट्रेंस एग्जाम देना होगा. और उसमे उत्तीर्ण (पास) होना होगा.इस तरह के एग्जाम को NET के नाम से जाना जाता है. NET का अर्थ है national eligibility test. 

 

इसके बाद आपका इन शिक्षा संस्थानों मे पीएचडी की पढ़ाई के लिए यानी एडमिशन के लिए आवेदन स्वीकार किया जाएगा.

 

पीएचडी आवेदन के लिए पात्रता /eligibility /योग्यता 

पीएचडी कौन कर सकता है? 

सबसे पहली योग्यता है शैक्षिक योग्यता.

पीएचडी आवेदन के लिए आपके पास प्राइवेट या सरकारी स्कूल की 12वी तक की शिक्षा होनी जरुरी है.

12वीं मे कम से कम 60% मार्क्स होने चाहिए.

 

उसके बाद  आपके पास ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन की डिग्री होनी चाहिए.  जिस विषय मे आप पीएचडी करना चाहते हो उनसे सम्बंधित विषयो मे आपके पास बेचलर और मास्टर डिग्री होनी चाहिए.

बेचलर और मास्टर दोनों डिग्रीयों मे आपके कम से कम 55% मार्क्स होने चाहिए.

 

ज़ब आपके पास ये शिक्षाए होंगी तो इससे आपको पीएचडी की शिक्षा हासिल करने मे आसानी होगी. आपको विषय से जुड़े ज्ञान को प्राप्त करने मे मदद मिलेगी.

Advertisement

 

पीएचडी के लिए उम्र सीमा 55वर्ष है.

 

पीएचडी करने के लिए कितनी एडमिशन फीस देनी पढ़ती है?

अलग शिक्षा संस्थानों मे इसकी फीस अलग अलग होती है.अमूमन इसकी फीस per समेस्टर के हिसाब से 25 से 50 हज़ार के बीच रहती है.

 

एक साल मे डॉ समेस्टर होते है जो हर 6 महीने के अंतराल मे करवाए जाते है.

 

पीएचडी परीक्षा (PHD exam) की तैयारी कैसे करें.?

  • दोस्तों phd exam की तैयारी जितनी जल्दी हो सके प्रारम्भ कर दें.
  • हर समेस्टर मे होने वाले exam के अनुसार सब्जेक्ट की तैयारी शुरू कर दें.
  • Phd की पढ़ाई और exam की तैयारी किसी अच्छे गाइडर के अंतर्गत कोचिंग ले कर करें. वह आपको phd का exam कैसे क्लियर करना कैसे टॉपिक पर ज़ादा जोर देना से सम्बंधित सभी तरह की गाइडन्स प्रदान करेगा.
  • सभी सब्जेक्ट और exam की बारीकियां अपने गाइडर से पता करें.
  • इंटरनेट से पिछले phd exam के प्रश्नोत्तर को डाउनलोड करके उनके अनुसार तैयारी करें.
  • कम समय मे ज़ादा लिखने की स्पीड बढाए.
  • Phd का exam 3 घंटे का होता है.

 

रोज 7 से 8 घंटे यदि आप अच्छे से मन लगा कर तैयारी करते है तो exam को पास करना कोई बहुत मुश्किल का काम नहीं है.

 

PHD (पीएचडी) करने के फायदे

पीएचडी करने के बहुत फायदे होते है.

  • पीएचडी करके आप किसी भी बड़े स्कूल मे प्रोफेसर का पद आसानी से प्राप्त कर सकते है.
  • पीएचडी के बाद आप कॉलेज या यूनिवर्सिटी मे प्रबंधक और असिस्टेंट प्रोफेसर के लिए भी job प्राप्त कर सकते है.
  • पीएचडी के बाद आप अपने विषय से जुड़े किसी बड़े साइटीफिक रिसर्च मे गाइडर का काम हासिल कर सकते है.
  • पीएचडी के बाद आपके रिसर्च पर लिखी किताबें इंटरनेशनल लेवल पर प्रकाशित होती है.
  • पीएचडी के बाद आप के लिए बहुत से ऐसे द्वार खुल जाते है जहाँ आप बड़े बड़े पद को हासिल कर सकते है.
  • आप राष्ट्रपति पद के लिए भी आवेदन कर सकते है. आपने अक्सर देखा होगा अब तक भारत मे जितने भी राष्ट्रपति हुए है उन सब ने पीएचडी की थी इन सब के नाम के आगे डॉ लिखा हुआ रहता है. जैसे अभी हमारे राष्ट्रीय पति डॉ राम नाथ कोविंद है. डॉ राजेंद्र प्रसाद आज़ाद भारत के पहले राष्ट्रपति थे.
  • पीएचडी करने के बाद समाज मे रुतबा और सम्मान कई गुना बढ़ जाता है.

 

पीएचडी के बाद कितनी सैलरी मिलती है?

पीएचडी के बाद सालाना 10 से 12 लाख रुपए की शुरुआती सैलरी प्राप्त होती है. फिर आगे जैसे जैसे किसी पद पर तजुर्बा बढ़ता जाएगा उसी हिसाब से सैलरी और ज़ादा offer होगी.

 

चलिए जल्दी से अब शार्ट मे समझ लेते है की –

 

पीएचडी क्या है कैसे करें ?

  1. पीएचडी एक उच्च स्तरीय नेशनल लैवल डॉक्टरेट डिग्री होती है।
  2. भारत मे पीएचडी को बहुत बड़ी मान्यता प्राप्त है.यह सबसे बड़ी क्वालिफिकेशन मे से एक होती है।
  3. पीएचडी की शिक्षा पूरी करने मे इसमें 3-6 साल का समय लगता है।
  4. इसके लिए आपको कम से कम 55% मार्क्स के साथ सबंधित विषय मे पोस्ट ग्रेजुएट होना जरुरी होती है.
  5. पीएचडी के लिए UGC NET, RET, GATE, BITS जैसी प्रवेश परीक्षा देनी होती है।
  6. PhD में आपको एक विषय पर ही बहुत गहराई में पढ़ाई करनी होती है। जिसमे कई शोध करने होते है, सेमिनार मे जाना होता है.
  7. PhD करके आप यूनिवर्सिटीज और कॉलेज में असिस्टेंट प्रोफेसर बन सकते हैं।
  8. बहुत सी सरकारी और प्राइवेट संस्थाएं पीएचडी किए उम्मीदवारों को बढ़िया पैकेज देती
  9. इसमें आपको खूब मेहनत करके समेस्टर एग्जाम पास करने होते है, प्रेक्टिकल अनुभव के लिए तरह तरह की रसर्च करनी होती है.
  10. फिर इन्ही के आधार पर थीसिस और प्रोजेक्ट बनाने होते है जिसमे आपके अब तक के अनुभव और रिसर्च शामिल होते है.

 

निष्कर्ष

तो दोस्तों उम्मीद करता हु अब तक आप यह सब अच्छे से समझ गए होंगे की phd ki full form kya hai, phd क्या होती है.phd करने के लिए क्या करना होगा, phd exam की तैयारी कैसे करनी है, phd के फायदे क्या है.

Advertisement

दोस्तों phd करने जे बाद आप अपने ज्ञान का उपयोग देश को समृद्ध बनाने और देश के विकास मे करना.

 

हम आपके के ऐसी ही तमाम जानकारियों से भरी पोस्ट लाते रहते है. हमारे blog पर आते रहे.

 

इन्हे भी पढे – 

GISET-1 क्या है? भारत को इससे क्या फायदे मिल रहे है ?

मौलिक अधिकार क्या है ? सम्पूर्ण जानकारी -जरूर पढ़े 

Global Warming क्या है ?आखिर क्यो बढ़ता जा रहा है ?कैसे बचे?

friendship day क्या है क्यों मनाया जाता है ?

आर्टिकल 370 और 35A क्या है? इन्हे कश्मीर से क्यों हटा दिया गया

नागरिकता बिल CAA क्या है? इसे लागू होने के बाद देश भर मे इतना हंगामा क्यों हुआ

इंटरनेट क्या है इसके क्या फायदे है ?

जरूर पढे – Google का full form क्या है. Google का पूरा नाम क्या है. 

Alzaway kya hai | अपना हुनर बेच कर पैसे कमाए 

आर्टिफिशल एंटेलिजेंस क्या होता है पूरी जानकारी 

जरूर पढ़े – VPN kya hai | अपने डिवाइस नेटवर्क को सुरक्शित कैसे करे  

online पैसे कमाने के 10 आसान तरीके 

Digital marketing kya hai?

Email marketing क्या है और कैसे की जाती है ?

social media क्या है ?

Advertisement

Neeraj Chopra Biography hindi

 

Advertisement
Advertisement

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *