traffic rules in india 2019 | indian motor vehicle act

भारत का नया यातायात नियम 2019 || traffic rules in india 2019|| india motor vehicle act 

 

traffic rules in india 2019 | indian new motor vehicle act 2019- जैसा की आप सब जानते ही है की 1 सितंबर 2019 से  (मोटर वाहन अधिनियम संशोधन) (indian motor vehicle act)  भारत के यातायात  नियम मे चलान को लेकर बहुत बड़ा बदलाव भी किया गया है और कुछ नए नियम भी जोड़े गए है |चलिये यातायात के नियमो मे इस बदलाव को लेकर कुछ खामियों और फ़ायदों के बारे मे जान लेते है जैसा की लोग बता रहे है |

 

इस बदलाव के चलते भारत के लोगो की अच्छी और बुरी दोनों प्रकार की राय और प्रतिक्रियाएँ देखने को मिली है | कोई कहता है चलान  की धन राशि बहुत अधिक कर दी गई है , जो की एक मिडल क्लास या गरीब आदमी के लिए चुका पाना  उसके लिए एक बहुत बड़ी परेशानी खड़ा करता है |इतना तो एक गरीब आदमी के महीने की कमाई नहीं होगी जितना उसको 2 या 4 प्रकार चलान  कटने पर देना होगा |

 

यातायात के चलान  मे  बड़े  बदलाव  को लेकर लोग  इसकी  एक और खामी निकालते   हुए  बोल रहे है की  ट्रैफिक पुलिस  लोगो  को  यातायात से संबन्धित जब कागजात दिखाने  को बोलती है तो कुछ कागजात उस समय मे लोगो के पास नहीं होते बल्कि घर पर होते है | तो जब ड्राइवर वो कागजात दिखाने के लिए कुछ समय की मोहलत मांगता है तो वह उसे नही देते और चलान  कर देते है |

 

इसके इलवा जब मोबाइल से निकाल कर उन कागजात को दिखाया जाता है तो यातायात पुलिस उसे मान्य या  व्सिधानिक नहीं मानती बोल कर चलान  कट देती है |

 

सरकार को हमे कुछ दिन का वक़्त देना चाहिए था ताकि हम अपने यतयत संबंधी सभी कागजात (documents) मेंटेन कर सकते | लेकिन यातायात के इस नए नियम को इतनी जल्दी लागू कर दिया गया की बहुत से लोगो के पास ऑन दी सुपोट तो यातायात के सभी कागजात मेंटेन नहीं थे | 

 

traffic rules in india 2019 | indian motor vehicle act

 

इस तरह  की घटनाओ और जगह जगह पर हो रहे ट्रेफिक चलान  को  देख कर लोग इसे  भ्रस्टाचार  से जोड़कर  भी  देख रहे है | इस पर लोगो का खना है की पहले 2 या 400 देकर कम निपट भी जाता था अब तो 1000 देना होगा |

 

traffic rules in india 2019 | indian motor vehicle act

 

इस प्रकार कुछ लोग इसे सिर्फ नुकसान का नियम और गरीब के पेट पर लात  मारने वाला नियम बता रहे है |

वही दूसरी तरफ लोग इसकी खामियों के साथ साथ इसके फ़ायदों के बारे मे बताते हुए कहते है की इस नए  नियम से अब लोग सुधरेंगे , यातायात के नियमो का पालन करेंगे जिससे यातायात दुर्घटनाओ मे काफी कमी देखने को मिलेगी | 

 

 

 

क्या आपके पास तत्काल वाहन से सबमनधित सभी ज़रूरी दस्तावेज़ नही होने पर आपका चालान कट लिया जाता है ? तो जन लो अपने अधिकार |

 

 

ड्राइविंग करते समय यदि आप यातायात के नियमो का उल्लंघन करने पर पकड़े जाते है तब आपको भारी जुर्माना  चुकाना पड़ता | इन्ही मे से कुछ नियम का उलंघन जैसे – सड़क पर वाहन  चलाते समय अगर आपके पास आपका ड्राइविंग लाइसेन्स , वाहन का रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट , इन्शोरेंस के कागजात , प्रदूषण सर्टिफिकेट (PUC) , और परमिट नहीं है तो आपका चालान काटा जा सकता है |

 

लेकिन central motor vehicle act के रूल 139 मे प्रावधान किया गया है की  वाहन के ड्राइवर को (वाहन मालिक) को सभी दस्तावेजो को पेश करने के लिए 15 दिन का वक्त दिया जाएगा | यानि की ट्रैफिक पुलिस तत्काल आपका चालान नहीं काट सकती है |

अगर आप उस ट्रैफिक पुलिस से बोलते है की हमारे  पास सभी डोकुमेंट है लेकिन इस वक़्त हमारे पास नहीं है तो  central motor vehicle act के रूल 139 मे प्रावधान  के अनुसार  आप उससे कुछ समय की मांग कर सकते है |लेकिन इसके लिए भी आपको तत्काल प्रति डोकुमेंट 100 रुपए की फीस भरनी होगी |

 

अगर फिर भी वो आपका चालान काटता है तो यह गैरकानूनी है आप उसके खिलाफ कोर्ट मे मुकदमा दायर कर सकते है | मुक़द्दमे मे अगर आप अपनी यह बात साबित कर देते है की आपके पास सभी कागजात थे पर उस तत्काल समय पर मेरे पास नहीं थे तो आप पर किया गया चालान माफ केआर दिया जाएगा |

traffic rules in india 2019 | indian motor vehicle act

 

15 दिन बाद आपको संबन्धित ट्रैफिक अधिकारी को दिखाना होगा या फिर रजिस्टर्ड पोस्ट के जरिये भेजना होगा |

प्रति डोकुमेंट 100 रुपए की फीस का मतलब है की यदि आपका चालान सिर्फ ड्राविंग लाइसेन्स तत्काल पास न होने पर कटा है तो इस पर 100 रुपए की फीस और यदि लाइसेन्स के साथ साथ इन्शोरेंस के कागजात भी नहीं है तो 200 रुपए की फीस तत्काल भरनी होगी |

 

वहीं दूसरी तरफ  motor vehicle act 2019 सेक्शन 158 के तहत एक्सीडेंट होने या किसी विशेस मामलो मे इन दस्तवेज़ों को दिखने का समय 7 दिन होता है |

 

 

traffic rules in india 2019 | indian motor vehicle act

 

भारत का नया यातायात नियम 2019 || traffic rules in india 2019|| india motor vehicle act कुछ इस प्रकार है |

 

traffic-rules-in-india

 

बिना लाइसेंस के गाड़ी चलाने पर जहां पहले 500 रुपए देने होते थे अब 5000 रुपए देने होंगे |

 

दो पहिया वाहन पर ओवर लोडिंग और ट्रिपलिंग पर 2,000 रुपये तक का चालान  कट सकता है  दूसरी बार यातायात के इस नियम का उल्लंघन करने पर 3 महीने तक लाइसेन्स भी सस्पेंड किया जा सकता है |

 

शराब पीकर गाड़ी चलाने पर 10,000 रुपये तक फाइन और 6 महीने की कैद तक की सजा मिल सकती है|

 

सामन्या चालान जहां फले 100 रुपए हुआ करते थे अब उसे बरहा कर 500 रुपए कर दिये गए है |

 

हेलमेट न पहन कर 2 पहिया वाहन चलाने पर पहले जहां 100 रुपये  का जुर्माना लगता था, अब 1,000 रुपये जुर्माने के साथ तीन महीने तक लाइसेंस सस्पेंडभी हो सकता है |

 

सीट बैल्ट न लगाने पर पहले जहां 100 रुपए का जुर्माना देना होता था अब वहीं 1000 रुपए देने होंगे |

 

यदि परिवार वाले या कोई भी ऐसा व्यक्ति जो नाबालिग को गाड़ी देता है और हाइवे पर अगर ट्रैफिक पुलिस उसे पकड़ लेती है तो अभिभावकों  यानि वाहन देने वाले पर पड़ेगा भारी जुर्माना । हादसा होने पर 25 हजार फाइन और तीन साल की जेल होगी |

 

ड्राइविंग के दौरान फोन पर बात करते पकड़े जाने पर पहले जहां 1000 रुपए जुर्माने के तौर पर देने होते थे अब इसे बढ़ा कर 10000 रुपए  (दस हज़ार रुपए  ) कर दिये गए है |

 

इस नए  indian motor vehicle act के अनुसार ओवर स्पीड पर 1 से 2 हजार रुपए और मीडियम पैसेंजर या कमर्शल वीइकल्स पर 2-4 हजार रुपये का जुर्माना। दूसरी बार पकड़े जाने पर लाइसेंस जब्त होगा ।

 

 

traffic rules in india 2019 | indian motor vehicle act

 

वहीं पहली बार खतरनाक ड्राइविंग करते हुए पकड़े जाने पर 6 महीने से 1 साल की जेल और/या 1-5 हजार रुपये तक जुर्माना। दूसरी बार पकड़े जाने पर 2 साल तक जेल और/या 10 हजार रुपये जुर्माना होगा |

 

 

वहीं पहली बार किसी भी प्रकार का नशा (खास कर दारू, गाँजा ,चरस का नशा ) करके ड्राइविंग करने पर  6 महीने तक जेल और/या 10 हजार रुपये का जुर्माना। दूसरी बार  पकड़े जाने पर 2 साल तक जेल और/या 15 हजार रुपये का जुर्माना होगा ।

 

 

हाइवे पीआर किसी प्रकार की  रेसिंग या स्पीडिंग करते हुए पकड़े जाने पर 1 महीने तक जेल और/या 5000 रुपये का जुर्माना। दूसरी बार  पकड़े जाने पर 1 महीने तक जेल और/या 10 हजार रुपये तक का जुर्माना होगा ।

 

traffic rules in india 2019 | indian motor vehicle act

 

बिना इंश्योरेंस वाली गाड़ी चलाते हुए पकड़े जाने पर 2 हजार रुपये का  जुर्माना और/या 3 महीने तक की जेल होगी । दूसरी बार पकड़े जाने पर 4 हजार रुपये जुर्माना और/या 3 महीने तक जेल होगी|

 

 

 

आपातकालीन सेवा में लगी गाड़ियों को रास्ता नहीं देने पर: पहले कोई प्रावधान नहीं था, लेकिन अब मोटर वाहन अधिनियम मे संशोधन के बाद इस पर 10,000 रुपये जुर्माना या 6 महीने तक जेल की सजा या फिर दोनों हो सकता है।

 

 

ऐक्सिडेंट से जुड़े अपराध मे दोसी पाए जाने पर : पहली बार 6 महीने तक जेल /या 5 हजार रुपये जुर्माना होगा । दूसरी बार 1 साल तक जेल /या 10 हजार रुपये तक का जुर्माना होगा ।

 

 

पहले नाबालिगों के द्वारा  ड्राइविंग के दौरान हुए हादसों को लेकर कोई कानून नहीं था। अब यदि कोई नाबालिग हाइवे पर ड्राइविंग करते हुए पकड़ा जाता है  तो  अभिभावक या वाहन मालिक को दोषी माना जाएगा। उन्हें 25 हजार रुपये जुर्माना और तीन साल की जेल होगी। साथ ही, वाहन का रजिस्ट्रेशन एक वर्ष तक रद्द कर दिया जाएगा | नाबालिग को 25 वर्ष की उम्र पूरा होने से पहले ड्राइविंग लाइसेंस नहीं दिया जाएगा।

 

 

traffic rules in india 2019 | indian motor vehicle act

 

चालान न भरने पर क्या होगा -?

 

ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन के बाद अगर यदि किसी व्यक्ति का  चालान कटता है और वह व्यक्ति उस चालान के रकम को नहीं भर पाता तो वो रकम उस व्यक्ति के  बीमा प्रीमियम में जुड़ जाएगी, और जब अगली बार व्यक्ति बीमा कराने जाएगा तो उससे वह रकम वसूल की जाएगी। मतलब व्यक्ति को बीमा की रकम के साथ पुराने चलान वाले जुर्माने को भी भरना होगा। हालाकी अभी यह पूरे भारत मे लागू नहीं हुआ है  क्योकि एक रिपोर्ट के मुताबिक भारतीय बीमा नियामक प्राधिकरण (इरडा) इसे पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर दिल्ली से लागू करेगी। अगर यह सफल रहा तो देश भर में लागू किया जाएगा।

 

traffic rules in india 2019 | indian motor vehicle act

 

 क्या हुआ जब लोगो की भीड़ PUC   Polution सर्टिफिकेट बनवाने पहुची?

 

इस मोटर वाहन अधिनियम का डर  लोगों में कुछ इस कदर  है कि अब PUC  यानि (Polution Under Control) सर्टिफिकेट बनवाने की होड़ सी लग गई है। रिपोर्ट्स के मुताबिक इस कानून के लागू होने के शुरुआती तीन दिनों में ही दिल्ली के प्रदूषण जांच केंद्रो पर लोगो की भीड़ उमड़ पड़ी , तीन गुना ज्यादा लोग पहुंचे। रिपोर्ट्स के मुताबिक शुरुआती तीन दिनों में दिल्ली के 951  प्रदूषण जांच केंद्रों पर 1.26 लाख से अधिक वाहन पहुंचे। इस दौरान PUC  को प्रदूषण जांच के तहत 84,000 से अधिक PUC सर्टिफिकेट जारी करने पड़े|

 

 

 

 

 

 यह आर्टिकल आपको कैसा लगा ? नीचे कमेंट करके जरूरु बताना। और इस जानकारी (article) को जादा से जादा लोगो तक शेयर करना ताकि उन तक भी यह  पहुच सके।

 

और यदि आपके पास भी कोई motivational story  , या कोई भी ऐसी ज़रूरी सूचना  जिसे आप लोगो तक पहुचाना   चाहते हो तो वो आप हमे इस मेल (mikymorya123@gmail.com) पर अपमा नाम और फोटो सहित send कर सकते है ।  उसे हम आपके द्वारा सेंद की हुई article के साथ लगा कर यहा पोस्ट करेंगे जितना अधिक ज्ञान बाटोगे उतना ही अधिक ज्ञान बढेगा। धन्यवाद.

 

 

 

यहाँ click करे – बासी  रोटी खाने के ज़बरदस्त फायदे  यह article पूरा पढ़ने के बाद कभी नहीं फेंकोगे बासी रोटी जानिए क्या सही तरीका बासी रोटी खाने का ?

 

 

यहां click करे- मोबाइल से बनाए Duplicate Aadhaar card

 

 

यहां click करे- aise kre adhar card download

 

 

यहां click करे- अभी तक घर नहीं पहुँचा आधार कार्ड | ऐसे प्राप्त करे आधार कार्ड

 

यहां click करे अपना आधार कार्ड स्टेटस चेक करे | check aadhar card status

 

यहां click करे- Online FIR कैसे दर्ज करे

 

यहां click करे- अगर पुलिस FIR लिखने से मना कर दे तो ! करें ये करे

 

यहां click करे- प्रधानमंत्री आवास योजना पूरी जानकारी

 

 

यहां click करे- आज से ही खाना बंद कर दो चीनी | sugar| यदि आप भीचीनी से बनी हुई या फिर direct चीनी दल केआर उसे पी  रहे हो या खा रहे हो तो हो जाओ सावधान |इस article मे  चीनी के सेवन से शरीर पर होने वाले हानिकारक प्रभाव के बारे मे आपको बताया गया है ।  इसके इलवा मिठास के लिए आप चीनी की जगह पर आप क्या क्या उपयोग कर सकते है उसके बारे मे भी बताया गया है ……………. 

 

 

 

 

gautam buddha story

यहाँ click करे – गौतम बुद्ध  की जीवनी और इतिहास || जानिए कहाँ से शुरू हुआ गौतम बुद्ध से  महतमा बुद्ध बनने का सफर|| कैसे मिला गौतम बुद्ध को परम ज्ञान 

 

यहाँ click करे – बुद्ध ने शांत पानी से दिया अपने शिस्यों को दिया जीवन का अनमोल ज्ञान || सही समय का इंतज़ार | gautam buddha story

 

 

new moral stories in hindi

यहाँ click करे – भगवान ने ऐसे किया अपने भक्त पर न्याय | देखिये भगवान ने कैसे दी साधू पर हाथ  उठाने की सज़ा | एक सच्ची कहानी |

 

 

vikram betal के रोचक  किस्से – hindi moral stories

 

यहां click करे – विक्रम बेताल की पहली कहानी तांत्रिक की चाल  (बेताल पच्चीसी)

यहां click करे- विक्रम बेताल कहानी भाग-2 जादुई टापू  (बेताल पच्चीसी)

यहां click करे- विक्रम बेताल कहानी भाग-3  राजकुमारी का विवाह (पांपी कौन ?) (बेताल पच्चीसी)

यहां click करे- विक्रम बेताल कहानी भाग-4  पति कौन? (बेताल -पच्चीसी)

यहां click करे- विक्रम बेताल कहानी भाग-5  सिपाही सहित पूरे परिवार की बलि (पुण्य किसका) (बेताल पच्चीसी)

यहां click करे – विक्रम बेताल कहानी भाग-6   तोता मैना ने सुनाई कहानी –अधिक पापी कौन ?(बेताल पच्चीसी)

यहां click करे –विक्रम बेताल कहानी भाग-7  तीन वर और राक्षस (बेताल पच्चीसी)

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!