ये 10 आदतें आपको कभी अमीर नहीं बनने देंगी | 10 wrong habits

ये 10 आदतें आपको कभी अमीर नहीं बनने देंगी | 10 wrong habits

ये 10 आदतें (10 wrong habits) आपको कभी अमीर नहीं बनने देंगी.These 10 Habits Keep You stop Getting Rich | 

मै आपको भरोसा दिलाता हूं, आज इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आप ग़रीबी से और मिडल क्लास से अमीरी तक का सफर आसानी से तय कर पाओगे.

क्योंकि मै आज आपको कोई inspiration या motivation नहीं बल्कि मनुष्य जीवन की वो 10 बड़ी ग़लतियां एवं विचारधाराएं,बताने जा रहा हूँ जिसके चलते आप ताउम्र कभी अमीर नहीं बन पाते,अमीरी से मेरा मतलब हैं एक ऐसी life स्टाइल  ज़ब आपको खूब धन की आवश्यकता पड़े तब आप ख़ुद को मजबूर,टूटा हुआ -और असहाय  महसूस ना करें.

👉दोस्तों!  हर कोई चाहता है की वो भी एक बेहतर से बेहतर life स्टाइल जिए,

👉 उसके पास सब सुख सुविधाएं हों,

👉उसके पास भी इतना पैसा हों की वो अपने और

👉अपने परिवार को एक बेहतर life स्टाइल दें सके, 👉अपने बच्चो को एक अच्छे स्कूल मे पढ़ा सके, और 👉यदि कोई बीमारी हों तो अच्छे हॉस्पिटल मे इलाज़ करवा सके.अच्छा स्वास्थ्य दे सके, पहनने को अच्छे कपड़े, और रहने को अच्छा घर दे सके.

👉अपने हर सपनो और शौक को पूरा कर सके.

 लेकिन ये तो तभी सम्भव होगा ज़ब उसके पास खूब सारा पैसा होगा यानी ज़ब वो अमीर इंसान होगा.

पर हर कोई इंसान तो अमीर बन नहीं पाता, जानते हों ऐसा क्यों,  ऐसा होता है इंसान के अंदर मौजूद कुछ ग़लत आदतों की वजह से, कुछ ग़लत विचारधाराओं की वजह से.

तो आज हम आपको,उन 10 ग़लत आदतों के बारे बताएंगे जिसके चलते इंसान तमाम कोशिशो के बाद भी अमीर नहीं बन पाता और ग़रीब ही रह जाता है.

 

तो नमस्कार दोस्तों, मै harjit maurya , स्वागत करता हूं आपका अपने इस blog gyandarshan24 पर. तो चलिए जानते है की ज़ादातर इंसान मे वो कौन सी 10 ग़लत आदतें ऐसी होती है जिस वजह से वो कभी अमीर ही नहीं बन पा रहा होता.

ये 10 ग़लत आदतें आपको कभी अमीर नहीं बनने देंगी | 
10 wrong habits naver became rich 

नंबर 1- फालतू खर्च करने की आदत – ज़ादातर लोग अपनी इसी ग़लत आदत की वजह से कभी अमीर नहीं बन पाते उल्टा और ज़ादा ग़रीब होते जाते हैं. आपने अक्सर ऐसे लोग देखें होंगे जो बाज़ार जाते ही या किसी मौल मे जाते ही इतने लालाईत हों जाते हैं की गए तो सिर्फ घूमने थे पर ना जाने क्या क्या खरीद लेते हैं सिर्फ अपनी बेतुकी सी शौक को संतुस्ट करने के लिये.

10-wrong-habits

खर्च करो! लेकिन सिर्फ उन पर जो जरुरी हैं जिनकी जरूरत हैं क्योंकि एक तरह गर आप ये सपना पाले घूम रहे हों की आपको अमीर बनना हैं अच्छी life स्टाइल जीनी हैं और सैलरी भी कम हैं पूरी जिंदगी करने पर 50 से 60 हज़ार से ज़ादा ऊपर की सैलरी नहीं मिलने वाली तो भाई यहां पर आपको अपने खर्चो को मैनेज करना होगा आपको अपने पैसो को सोच समझ कर सही जगह खर्च करना होगा. जैसे उन वस्तुओं पर खर्च करना जो आपके करियर ग्रोथ मे आपकी knowledge बढाने मे आपकी मदद कर सके. क्योंकि यहीं चीजें आपको अमीरी की ओर लेजाएगी.

यदि आप पैसो को यूँ ही खर्च करते रहोगे तो उतनी ही सैलरी मे saving और निवेश करके अपनी वेल्थ कैसे creat करोगे. सोचो…..

इसलिए अपनी इस आदत को सुधारो और अपनी इनकम का कुछ हिस्सा जानकारी लेकर अच्छी जगह पर निवेश करना शुरू करो .बहुत से लोग ऐसे हुए हैं जिन्होंने अपने अंदर इन्वेस्टमेंट की आदत को develop करके एक अच्छी खासी wealth creat की हैं. हमेशा अच्छी जगह पर निवेश करें क्योंकि क्योंकि आपके द्वारा आज जै समय मे किया गया निवेश एक समय बाद बहुत बेहतरीन returns देगा जिससे आपको कभी धन की कमी महसूस नहीं होगी.

 

नंबर 2- दिखावे की आदत – बहुत से लोग ऐसे होते हैं जो ये जानते हुए भी की उनका घर खर्च भी मुश्किल से चल रहा, गधे की तरह मेहनत करते हैं तब जाकर कहीं 4 पैसे जुटा पाते हैं फिर भी अपने समाज के लोगो मे अपने standard को ना गिरने जैसी एक गन्दी आदत पाल कर बैठे होते हैं इसे हम दिखावे की आदत कहते हैं. इस तरह की आदत वाले लोग, लोगो के बीच अपना एक झूठा रुतबा क़ायम रखने के लिये महंगे सामान खरीदेंगे,महंगे कपड़े पहनेंगे, 15-20 हज़ार का मोबाईल रखेंगे.रात को मजे से दारू पिएंगे. ये नशे की गन्दी आदत भी इंसान के खर्चो को बहुत बढा देती हैं. जिससे वो कमाते तो बहुत हैं पर उनके पास पैसा जुड़ता ही नहीं यानी एक अच्छी wealth कभी बन ही नहीं पाती.ये लोगो को महसूस नहीं होने देते की वो कितने ग़रीब हैं, बस इसी दिखावे के चक़्कर मे वो अपनी ही मेहनत की कमाई को आग लगा रहे होते हैं.तो ऐसी घटिया आदतों से वो अमीर तो छोड़ो मिडल क्लास के स्तर तक भी नहीं पहुँच सकते.

लेकिन इस तपके के कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो उतने ही पैसो को अच्छे से मैनेज करके किसी अच्छे काम मे उन पैसो को निवेश कर देते हैं, कोई छोटा मोटा व्यवसाय शुरू करके इन लोगो से काफ़ी आगे बढ़ जाते हैं एक दिन एक अच्छी वेल्थ creat करके अमीरों जैसी बेहतरीन life स्टाइल जीने लगते हैं.

यदि आपमें ये आदत हैं तो सुधार लो, ये मत सोचो की आप कितने गरीब हों, 90% लोग गरीबी से उठकर कर अमीरी तक का सफऱ तय किया हैं वो भी अपनी अच्छी आदतों, सही समझ के चलते. आप भी कर सकते हों.

यदि आपके पास धन कम हैं तो उसका सही उपयोग करना सीखो.

दिखावा करने वाले लोगो मे कुछ लोग ऐसी मानसिकता वाले भी होते हैं की मजाल हैं  उनकी ईगो हार्ट हों जाए यानी की ज़ब उसका कोई मित्र या बगल वाला कोई महंगी वस्तु खरीद लाए तो भला ये लोग कैसे पीछे हट सकते हैं वो भी अपने पैसो का दिखावा करने के कम्पिटिशन मे कूद पड़ते हैं. बस यहीं से शुरुआत होती हैं उनके हमेशा ग़रीब बने रहने की कहानी.

तो यदि आपके अंदर भी ये आदत हैं तो जल्द ही इसे सही कर लो वरना ये आपकी बची बुचि सम्पति भी लापता कर देगी.

नंबर 3 – जल्दबाज़ी करने की आदत – जी हाँ दोस्तों बहुत से लोग ऐसे ही होते हैं जिन्हे तुरंत result चाहिये होता हैं वो बहुत ज़ादा इंतज़ार नहीं कर सकते. इन लोगो ने आदत ही ऐसी बना ली होती गई की ये वहीं काम करेंगे जिसमे इन्हे जल्दी result मिल सके.

इस तरह के लोग अक्सर अमीर बनने के लिये ज़ादा पैसा कमाने के लिये कोई ना कोई shortcut रास्ता खोजते हैं जिससे ये कम मेहनत मे जल्दी अमीर बन जाए. और हर shortcut रास्ते की मंजिल ग़लत रास्ते से होकर ही गुजरती हैं जिसकी वजह से पैसो का नशा इन्हे क्राइम करने पर मजबूर करता हैं. इस तरह के लोग ग़लत काम करने से नहीं हिचकिचाते. हालांकि इस तरह के काम से मिली अमीरी अधिक समय तक नहीं रहती और फिर खूब पछतावा होता हैं.

जल्दबाज़ी वहीं लोग करते हैं जिनके अंदर संयम नहीं होता. लेकिन किसी भी बड़ी सफलता को प्राप्त करने के लिये संयम की बहुत जरूरत होती हैं. 

अपनी आदतों मे संयम को जरूर शामिल करो, बड़ी सफलता मिलने मे वक़्त लगता हैं क़ई उतार चढ़ाव के बाद ही वो सफलता मिलती हैं जिसके बाद धान दौलत की बारिश होने लगती हैं.

 

नंबर 4- कम्फर्ट जोन मे रहने की आदत –

जी हाँ दोस्तों! ऐसा सोचना बहुत से लोगो की आदत मे ही शामिल होता हैं.बहुत से लोग ऐसे होते हैं, जिन्हे ये लगता हैं की वो जो life जी रहे हैं या उनके पास जो हैं वो बहुत हैं उसी से ज़िन्दगी कट जाएगी. कुल मिलाकर ऐसे लोग बस ज़िन्दगी काटने आऐ होते हैं.आगे ना बढ़ने की सोच.

ऐसे लोगो को या तो साधारण और आराम भरा भरा जीवन पसंद होता हैं या फिर गधे जैसी मेहनत करना पसंद हैं,

मजाल हैं की इस तरह की सोच वाले लोग जीवन मे कोई बड़ा मुकाम प्राप्त करने के बारे सोच भी लें. ना! कतई नहीं. इन्हे तो बस दो वक़्त का भरपेट खाना मिल जाए. अगले दिन भी फिर से वहीं life. इस तरह के लोग भारत मे ज़ादा पाए जाते हैं जिस वजह से ग़रीबी का ये स्तर अब तक बरकरार हैं.

ये लोग कुएँ के ऐसे मेंढक की तरह होते हैं जो अपने कमफर्ट जोन को छोड़ बाहर निकलने को अपनी तौहीन मानते हैं.ऐसे लोगो का मानना होता हैं की यहीं ज़िन्दगी सही हैं अमीर बन कर कौन सा पैसा साथ लेकर जाना हैं.

तो यदि आपकी भी यहीं आदत हैं तो जल्द सुधार लें. वरना अमीरी तो छोड़ो एक दिन ख़ाने तक के लाले पड़ जाएंगे.

 

नंबर 5- संतुस्ट रहने की आदत 

जी हाँ दोस्तों, बहुत से लोगो के अंदर इस तरह की आदत पाई जाती है की वो रिस्क लेने के डर से नाकामयाबी के डर से, या लोगो की बातो मे आकर की वो काम करना बहुत मुश्किल है उसमे नुकसान है! तो ऐसे मे, थोड़े मे ही संतुस्ट रहने की वो बुरी आदत पाल लेते है जिसमे उनकी ये सोच बन जाती है की जो बचा है कहीं वो भी ना चला जाए, और यही सोच उन्हें जबरन हर चीज मे, हर हालात मे संतुस्ट रहना सिखा देती है जिस वजह से वो अंदर ही अंदर से अमीर होने की लालसा तो रखते है पर उसके लिये कभी एफर्ट नहीं कर पाते और वो ग़रीब के ग़रीब ही रह जाते है.

इसके इलावा इस इसी तरह की हेबिट्स लिये कुछ लोग ऐसे भी होते है जो खुद से ये कहते रहते है की बस दाल रोटी चल रही है ना, तीन वक़्त की रोटी मिल रही और क्या चाहिये, कौन फालतू की दिमाग़ बाज़ी करें.

सिर्फ यही नहीं, ऐसी मानसिकता वाले लोग अपने नसीब को कोसने मे भी तनिक गुरेज़ नहीं करेंगे.और कहते रहेंगे की की जो नसीब मे है वहीं मिलेगा. उससे ज़ादा कभी नहीं मिल सकता..

दरअसल ऐसे लोग कुएँ के उस मेंढक की तरह होते है जो उस कुएँ को ही पूरा समुद्र समझ रहे होते है.

हमें किताबों मे पढ़ाया गया है की संतोष ही सबसे बड़ा धन है, देखिये आत्मसतुष्टि जैसी बातें अध्यात्म ज्ञान मे ही अच्छी लगती है या फिर ज़ब शरीर बहुत बूढ़ा हों चुका हों,  वरना ज़ब जेब खाली होती है तो  जिंदगी मे आत्मसतुस्टी जैसी बातें जहर की तरह काम करती है.

ज़रा सोच कर देखो गर धीरू भाई अम्बानी सिर्फ एक ही industri डाल कर संतुष्ट हों जाते तो आज इतना बड़ा इम्पायर कभी देखने को ना मिलता.

सलमान खान, अमिताभ बच्चन, शाहरुख़, बिलगेट्स, धोनी, कोहली, रुनाल्डो, एलोन मस्क जैसे ना जाने कितने ऐसे लोग है जिनके पास अथाह धन, सुख सुविधाए होते हुए भी, ये लोग और आगे बढ़ने के लिये,अब भी जी तोड़ मेहनत कर रहे है, रोज कुछ ना कुछ नया सीख रहे है.

आप स्वयं विचार करें, जो इंसान अपनी वर्तमान इनकम से संतुष्ट है वो भला आगे बढ़ने के बारे मे या कोई बड़ा लक्ष्य बनाकर उसे हासिल करने के बारे मे कैसे सोच पाएगा.

 

Number -6 दूसरों को दोष देने की आदत

वो कहते हैं ना की करने वाले करने के बहाने खोजते हैं और ना करने वाला ना करने के बहाने. बहुत से लोग ऐसे होते हैं जो नाकामयाब होने पर अपनी गलती कभी नहीं देखेंगे वो कभी नहीं सोचेंगे की उनके अंदर आखिर क्या कमी हैं या कहाँ पर गलती हों रही हैं जिसे ठीक करके आगे बढा जाए बल्कि उल्टा वो अपनी नाकामयाबी का कसूर दूसरे लोगो पर,परिस्थितियों पर, वस्तुओं पर, सरकार व उनकी नीतियों व सिस्टम पर ठहराने लगेंगे.

इस तरह के लोग जीवन मे कभी भी बड़ी कामयाबी प्राप्त नहीं कर सकते.

यदि आपकी ऐसी आदत हैं तो उसे सुधार लो.जिस दिन से आप अपनी नाकामयाबी का कारण ख़ुद को समझने लगे तो आपकी कामयाब होने से कोई नहीं रोक सकता.

गलतियों से घबराने व पछतावा करने की बजाय उनसे सीख लो और अपनी गलती को सुधार कर आगे बढ़ने के लिये पुनः प्रयास करो.

 

नंबर 7- आत्मविश्वास की कमी –

बहुत से लोग ऐसे होते हैं जिनके अंदर बहुत काबिलियत होती हैं खूब हुनर होता हैं पर कहीं ना कहीं उन्हें ख़ुद पर विश्वास नहीं होता की उन्हें सफलता मिलेगी या नहीं. सबसे पहले ख़ुद पर विश्वास होना बहुत ज़रूरी होता हैं.

 

ऐसे बहुत से लोग हैं जो बड़े बड़े सपने देखते हैं, और लक्ष्य भी बनाते हैं पर उन को सच्च मे बदलने की ज़ब बारी आती हैं तो इम्प्लीमेंट नहीं कर पाते, इसकी सबसे बड़ी वजह होती हैं उनके अंदर के डर ऐसे लोग नाकामयाबी से इसलिए डरते हैं क्योंकि उन्हें ख़ुद की काबिलियत पर भरोसा नहीं होता.

 

नंबर 8- समय बर्बाद करने की आदत –

बहुत से लोग ऐसे हैं जो अमीर तो होना चाहते हैं और उन्होंने अच्छा खासा लक्ष्य भी बनाया होता हैं पर अफ़सोस वो अपना ज़ादातर वक़्त अपने लक्ष्य को पाने की बजाय कुछ ऐसे फालतू के कामों मे ज़ाया करते हैं जिनका उनके लक्ष्य से किसी भी तरह का कोई लेना देना नहीं होता. ऐसे लोग बस मोहवश अपनी किसी इच्छा व मानसिक संतुष्टि के लिये अपना ज़ादातर वक़्त फालतू के कामों मे व्यर्थ करते रहते हैं.

जैसे लड़की बाज़ी, या प्यार के चक़्कर मे समय व्यर्थ करना,दोस्तों के साथ मिल कर इधर उधर घूमने मे, दुनियादारी मे.

 

तो यदि आपमें भी यहीं आदत हैं तो जल्द ठीक कर लें और सीरियस होकर सिर्फ अपने लक्ष्य पर फोकस करना शुरू कर दे.

नंबर 9- ज़ादा सोचने की आदत –

ऐसे बहुत से लोग होते हैं जो करते कम और सोचते बहुत ज़ादा हैं. जैसे मुंगेरी लाल के सपनो की तरह.

सोचो, लेकिन उतना जितना इम्प्लीमेंट कर पाओ. यानी जितना plan किया हैं उसे इम्पोकिमेंट करो.

यदि आप प्लानिंग ही करते रह जाओगे तो आपकी जगह कोई और बाज़ी मार जाएगा.

इस आदत को खत्म करो, कम ही सोचो पर उसे इम्प्लीमेंट करो, नाकामयाबी या गलतियों से बिना डरे आगे बढ़ो.

 

नंबर 10- नकारात्मक सोच की आदत –

कुछ लोगो की आदत ही बन चुकी होती हैं नकारात्मक सोचना. ऐसे लोग लक्ष्य बनाने से पहले भी 10 बार सोचेंगे,ऐसी मानसिकता वाले लोग बहुत जल्दी घबरा जाते हैं और हार मान लेने हैं. इस आदत को ज़ब तक आप खत्म नहीं करोगे आप जीवन मे कभी अमीर नहीं बन सकते एक कामयाब इंसान नहीं बन सकते.क्योंकि नकारात्मक सोच वाले लोग असफलता के बाद सफल होने का दोबारा प्रयास नहीं करते.

किसी भी काम मे सफलता मिलेगी या नहीं यह सबसे पहले आपकी सोच पर निर्भर करता हैं. इसलिए हमेशा सकारात्मक सोचो. सकारात्मक सोच आपके हौसलो को हमेशा मजबूत रखेगी.

 

तो दोस्तों यहीं हैं वो 10 ग़लत आदतें जिनकी वजह से एक इंसान जीवन मे कभी अमीर नहीं बन पाता. वो कभी life स्टाइल को बेहतर नहीं बना पाता.

दोस्तों ग़रीब और मिडल क्लास मे ऐसे इंसान बहुत ज़ादा पाए जाते है जो, जितनी चादर उतने पैर फैलाओ वाली कहावत पर ही चलना पसंद करते है.ऐसे लोग पूरी ज़िन्दगी उसी छोटी सी चादर मे काबिलियत रूपी पैरों को सिकोड़ कर रखे रहेंगे और जीवन गुजरते रहेंगे.

पर जिस दिन से आप इस आदत को सुधार कर ये सोचना शुरू कर दें की क्यों ना चादर ही बड़ी कर ली जाए, तो आपको अमीर होने से कोई नहीं रोक सकता.

तो दोस्तों यहीं वो 10 ग़लत आदतें 10 wrong habits हैं जिनकी वजह से ना जाने कितने लोग अपनी काबिलियत का गला दबा देते है, वें अपनी काबिलियत का कभी खुल कर उपयोग ही नहीं कर पाते.

बुरे लोगो की पहचान कैसे करें

असफला को सफलता मे कैसे बदले

Self development speech in hindi

अवचेतन मन क्या है

मोक्ष प्राप्ति का मार्ग 

भगवत गीता अनमोल वचन

उदासी मे भी सकारात्मक रहना सीखे

Self development tips hindi 

अध्यात्म क्या है for self improvement

Best learning habits moral story 

Small business ideas in hindi

Porn video देखने के नुकसान 

 

 

2 thoughts on “ये 10 आदतें आपको कभी अमीर नहीं बनने देंगी | 10 wrong habits”

  1. Thanku sir apne bahut achi jaankaari di h drasal me bhi bahut sochta hu per ker nhi pata kahi na kahi mere ander bhi shy h matlab aatm viswash ki kami h our dusri bt jyada pesa bhi nhi h per me 1 din groww kerke hi dum lunga mujhe apne ap per pura bharosh h per koy meri help bhi to nhi kerta
    Samaje nhi aata me kya kru sayad kisi ne hmare ghar per jaadu tona kerra rakha h isliye ghare me Barkat nhi ho rhai h..jai shree ram sir ji good night kal subai baat kerta hu apse oh sory next topice jaldi lana ap bye

    1. दीपक, ज़ब आपने ये कहा की मै हिम्मत नहीं हारूंगा तो ये मुझे सबसे अच्छा लगा, क्योंकि आपका यहीं हौसला आपके आत्मविश्वास को build करेगा, रही बात घर पर जादू टोन की तो ईश्वर से बड़ी कोई शक्ति नहीं बस तुम अच्छे कर्म करते जाओ कभी किसी का बुरा मत करना,बाकी बुरा करने वालो को एक दिन उनकी सजा जरुरी मिलेगी, कोई किसी का लाख बुरा कर लें पर होगा वहीं जो भाग्य मे होगा और भाग्य वहीं होगा जो आप अपने कर्म से बनाओगे.

Leave a Comment

Your email address will not be published.

duniya ke 10 sabse jahrile saamp Top 10 richest country Agnipath yojna | अग्निपथ योजना क्या है पूरी जानकारी Rape of nanking history in hindi  How to control your mind These 5 bad habits are the biggest obstacle to success Rich mindset and poor mindset Rich mindset and poor mindset kya hai ये 10 आदतें आपको कभी अमीर नहीं बनने देंगी masturebation करना सही या गलत