how to stay positive in sadness | उदासी मे भी सकारात्मक रहना सीखे

उदासी मे भी सकारात्मक रहना सीखे | how to stay positive in sadness

नमस्कार दोस्तों, स्वागत है आपका आज की इस अद्भुत affirmation मे, आज हम जाएँगे की  उदास होने पर भी सकारात्मक कैसे रहें!!

 

उदासी मे भी सकारात्मक रहना सीखे | how-to-stay-positive-in-sadness

 

human nacture के एक रिसर्च मे यह पाया गया है की ज़ब भी इंसान दुखी या उदास होता है तब नकारात्मक विचारों की तरफ वो ज़ादा आकर्षित होता है. 

Advertisement

 

ये अक्सर देखा गया भी गया है की जब आप उदास होते हैं तो आपकी खुद की लाइफ और दुनिया आपको बदसूरत लगने लगती है।

कुछ भी अच्छा नहीं लगता किसी काम मे मज़ा नहीं आरहा होता.

 

लेकिन जब आप खुश होते हैं तो आपको अपनी लाइफ और यह दुनिया खूबसूरत लगने लगती है।

 

जीवन हमेशा सीधा नहीं चलता। खुशी है तो गम भी हैं। जब हम खुश होते हैं तो सकारात्मक रहना आसान होता है।  लेकिन आज हम जानेंगे उदास होने पर सकारात्मक कैसे रहें।

 

भले ही हम कितने भी सकारात्मक (Positive) रहें। जब प्रॉब्लम आती हैं तो कहीं न कहीं नकारात्मक विचार (Negative Thoughts) आते ही हैं कभी इतना कठिन समय आ जाता है कि आपको अपना जीवन बोझ लगने लगता है।

 

 इसका मतलब यह नहीं है की आपको हार मान लेनी चाहियें। आपको जीना छोड़ देना चाहियें। याद रखें जब भी कोई कठिन समय आता है। 

 

यह वही समय होता है जब आप अपने व्यक्तित्व का निर्माण करते हैं। यह बुरे दिन नहीं होते, यह आपके व्यक्तित्व निर्माण के दिन होते हैं। बस कोई सवर जाता है और कोई बिखर जाता है।

 

सफल और असफल व्यक्ति में यही फर्क है। सफल व्यक्ति के जीवन में भी कठिनाई आती हैं और असफल व्यक्ति के जीवन में भी कठिनाई आती हैं पर सफल व्यक्ति इसको सकरात्मता से और एक अवसर के रूप में देखता है जबकि असफल व्यक्ति इसके विपरीत होता है।

Advertisement

ज़ब भी आपको लगे की आप एक निराशापूर्ण जीवन (stress full life) जी रहे है तो अपना ध्यान उन जीवन के उन पलों की तरफ केंद्रित करें जो आपकी life मे खूबसूरत पल रहे हों, खुद से सवाल करो की जिंदगी बची ही कितनी है, कभी भी कुछ भी हो सकता है, तो फिर ये

ज़ब भी किसी काम या लक्ष्य को लेकर आप खुद को डेमोटिवेट महसूस करें तो यह बिलकुल ना सोचे की आप अभी तक उन टारगेट को पूरा नहीं कर पाए, जो सोचा था वैसा नहीं हो रहा अभी कितना काम पड़ा है अभी कितना लक्ष्य पड़ा है वगैरा वगैरा….ऐसा सोचने से आपका हौसला कमजोर होगा. आपको इनकी जगह positive सोचना है की आप कितना काम कवर कर चुके है, अभी तक आप अपने लक्ष्य पर इतनी आगे आ चुके है, बस थोड़ा और चलना है. ऐसा सोचने से आपमें काम करने की उतत्सुकता बरकरार रहेगी. देखना जल्दी ही आपको अच्छे परिणाम मिलने शुरू होंगे.

दुनिया में कोई ऐसा व्यक्ति नहीं हैं जिसकी लाइफ में सुख दुख न आएं। सबसे पहले आपको यह समझना होगा की आपकी लाइफ में जो कुछ भी होता है, अच्छा या बुरा यह परिथितियाँ होती हैं यह आप कर डिपेंड करता है की उस परिस्थिति में आप सकारातमक रहें या नकारात्मक।

 

थॉमस एडिसन का कहना था ‘जिसके जीवन में जितनी ज्यादा प्रोब्लेम्स आती हैं वो उतना ज़ादा सीखता है.’ आपका सही निर्णय आपके अनुभव से आता है और आपका अनुभव आपके बुरे समय से।

 

 बुरा समय आपको मजबूत बनाने के लिए आता है, यह आप पर डिपेंड करता है कि आप उस समय को कैसे देखते हैं।

how to stay positive in sadness by श्री कृष्ण 

श्री कृष्ण कहते हैं “योद्धा किसी भी परिस्थिति में विचलित नहीं होता हैं, वो सिर्फ लड़ता है। यदि आपको सकारात्मक रहना है तो याद रखें आप हारने के लिए नहीं बने। आप अपने सपने को पाने के लिए बने हैं। भगवान भी उसी पर भरोसा करते हैं जो खुद पर भरोसा करता है।

 

एक कहावत है, “आप वही बन जाते हैं जो आप ज्यादातर समय सोचते हैं।” अपने सपनो को, अपने लक्ष्य को हमेशा अपने दिमाग में रखें और अपने आप को सकारात्मक बनाए रखें।

 

याद रखें जीवन में कठिन समय से गुजरे बिना आप कभी आगे नहीं बढ़ सकते और आप कभी सफल नहीं हो सकते। कठिन समय आपको हमेशा कुछ

सिखाने की कोशिश कर रहा है। इसलिए, उन सबक पर अपना ध्यान केंद्रित करना सीखें जो जीवन आपको सिखाने की कोशिश कर रहा है। 

 

आखिर मे यही कहूंगा की आप किसी भी धर्म से क्यों ना हो श्री भगवत गीता को जरूर पढे यह हर भाषा मे उपलब्ध है.

 

जीवन मे एक लक्ष्य जरूर बनाओ अपने अंदर इतना जूनून पैदा कीजिये उस लक्ष्य को पाने का कि बड़ी बड़ी कठियाईयाँ भी छोटी लगने लगें।

कोरोना महामारी में सकारात्मक सोचें और अपने स्वास्थ्य का ख्याल रखे।

 

तो दोस्तों यह how to stay positive in sadness hindi post आपको कैसी लगी?

Advertisement

इस लेख को अधिक से अधिक लोगो मे शेयर करें. ताकि वह भी इसे पढ़ कर निराशायुक्त जीवन से बाहर निकल कर जिंदगी का आनंद ले सके.

 

हम अपने इस blog पर जीवन और सोच को बदल देने वाली, जैसी तमाम तरह की post लाते रहते है जिन्हे पढ़ने के बाद मन मे सकारात्मक विचारों का जन्म होने लगता है. जीवन को जीने का नजरिया ही बदलने लगता है.

 

 

इन्हे जरूर पढे –

Self development tips hindi 

मौलिक अधिकार क्या होते है?

संसार की शक्ति | प्रेरक कहानी 

Self improvement के लिए जरूर पढे

अध्यात्म क्या है for self improvement

Best learning habits moral story 

 

 

ज्ञान से भरी किस्से कहानियों का रोचक सफर | यहाँ मिलेंगे आपको तेनाली रामा और बीरबल की चतुराई से भरे किस्से ,  विक्रम बेताल की कहनियों का रोचक सफर , भगवान बुद्ध की कहानियाँ , success and motivational stories और ज्ञान से भरी धार्मिक कहानियाँ 

 

moral-stories-in-hindi

 

 

 

Advertisement
Advertisement
Advertisement

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *