सर्दी जुकाम के उपचार के 10 आसान घरेलु उपाय

 सर्दी जुकाम से बचने के लिए घरेलू उपाय

 

सर्दी जुकाम के उपचार – सर्दियों के मौसम मे ठंड के बढ़ते ही ख़ासी जुकाम बुखार गला ख़राब जैसी आदि कई छोटी बीमारियाँ शरीर को घेर लेती है। सर्दियों मे ज़्यादातर ज़ुकाम इसके वाइरस फैलने से होता है इसके इलवा खुद की लापरवाही इंसान को इन बीमारियो के नजदीक ल देती है।
वह इनसे छुटकारा पाने के लिए दवाइयां लाता है इस से उसके ठीक होने के चांस 50-50 होते है यदि ठीक हो भी जाए तो शरीर पर बुरा असर डाल जाती है। शरीर की इममुनिटी को बहुत काम कर देती है जिस से शरीर बहुत कमजोर फील करता है।
सर्दी जुकाम के उपचार
दोस्तो सर्दी जुकाम लगते हि 90% लोग जल्दबाज़ी मे डॉक्टर के पास चले जाते है और महंगी दावाइयाँ ले आते है लेकिन इन दवाइयो की कोई गारेंटी नही होती की जुकाम ख़ासी बुखार शी हो जाएगा या नही हा ज़्यादातर दवाइयाँ जल्दी आराम तो देती है लेकिन इनके साइड इफेक्ट भी बहुत है.
जिस से आप अंजान है , हाला की सब लोगो को घरेलू नुस्खे के बारे मे पीटीए होता है लेकिन कब-कितना-और कैसे प्रयोग करना है यह नहीं पता होता तो इसका सही उपयोग कर के बाद आप बारी आसानी से बिना की साइड इफैक्ट के इन सब चोटी बड़ी बीमारियो से जल्द राहत पा सकते है  .
लेकिन घर पर ही कुछ ऐसे घरेलू उपचार होते है जो ना सिर्फ आपको बिना कोई हानी पहुचाए आपको इन बीमारियो से छुटकारा दिला सकते है, बल्कि आपको आपकी इम्मुनिटी पवार को भी बरकरार रखते है।
सर्दी जुकाम के उपचार
तो चलिये जान लेते है उन घरेलू उपचार के बारे मे
अगर आपको भी अक्सर सर्दी, जुकाम, खांसी जैसी समस्याएं होती हैं, तो इन 10 घरेलू नुस्खों की मदद से आपको जल्द राहत मिलेगी।
सर्दी जुकाम के उपचार
हल्‍दी 
जुकाम और खांसी से बचाव के लिए हल्‍दी बहुत ही अच्‍छा उपाय है। यह बंद नाक और गले की खराश की समस्‍या को भी दूर करता है। जुकाम और खांसी होने पर दो चम्‍मच हल्‍दी पावडर को एक गिलास दूध में मिलकार सेवन करने से फायदा होता है।
सर्दी जुकाम के उपचार
दूध में मिलाने से पहले दूध को गर्म कर लें। इससे बदं नाक और गले की खराश दूर होगी। सीने में होने वाली जलन से भी यह बचाता है। हती नाक के इलाज के लिए हल्दी को जलाकर इसका धुआं लें, इससे नाक से पानी बहना तेज हो जाएगा व तत्काल आराम मिलेगा।
सर्दी जुकाम के उपचार

गेहूं की भूसी
जुकाम और खांसी के उपचार के लिए आप गेहूं की भूसी का भी प्रयोग कर सकते हैं। 10 ग्राम गेहूं की भूसी, पांच लौंग और कुछ नमक लेकर पानी में मिलाकर इसे उबाल लें और इसका काढ़ा बनाएं।
सर्दी जुकाम के उपचार
इसका एक कप काढ़ा पीने से आपको तुरंत आराम मिलेगा। हालांकि जुकाम आमतौर पर हल्का-फुल्का ही होता है जिसके लक्षण एक हफ्ते या इससे कम समय के लिए रहते हैं। गेंहू की भूसी का प्रयोग करने से आपको तकलीफ से निजात मिलेगी।

समान्‍य कोल्‍ड और खांसी के उपचार के लिए बहत की कारगर घरेलू उपाय है तुलसी
, यह ठंक के मौसम में लाभदायक है। तुलसी में काफी उपचारी गुण समाए होते हैं, जो जुकाम और फ्लू आदि से बचाव में कारगर हैं।
तुलसी की पत्तियां चबाने से कोल्ड और फ्लू दूर रहता है। खांसी और जुकाम होने पर इसकी पत्तियां (प्रत्येक 5 ग्राम) पीसकर पानी में मिलाएं और काढ़ा तैयार कर लें। इसे पीने से आराम मिलता है
तुलसी

सर्दी और जुकाम में अदरक बहुत फायदेमंद होता है। अदरक को महाऔषधि कहा जाता है
, इसमें विटामिन, प्रोटीन आदि मोजूद होते हैं। अगर किसी व्यक्ति को कफ वाली खांसी हो तो उसे रात
सर्दी जुकाम के उपचार
को सोते समय दूध में अदरक उबालकर पिलाएं। अदरक की चाय पीने से जुकाम में फायदा होता है। इसके अलावा अदरक के रस को शहद के साथ मिलाकर पीने से आराम मिलता है।
अदरक

सर्दी खांसी से बचाव के लिए कैसे करें अदरक का इस्तेमाल – How To Use Ginger For Cough And Cold

 

सर्दी जुकाम के उपचार

 

सर्दियां शुरू होते ही लोग अदरक वाली चाय पीना शुरू कर देते हैं। इसकी तासीर गर्म होने के कारण सर्दियों में इसका ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है। इस मौसम में अदरक खाने या इसकी चाय पीने से सर्दी-खांसी, जुकाम, बलगम जैसी परेशानियों से बचा जा सकता है।

 

साथ ही इसमें पाए जाने वाले एंटीबैक्टीरियल, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेटस, आयरन, कैल्शियम जैसे पोषक तत्व कैंसर, माइग्रेन और दिल के रोगों से भी बचाव करते हैं। चलिए जानते है रोजाना एक टुकड़ा अदरक का खाने से शरीर को क्या-क्या फायदे होते हैं।

– इसके लिए कच्चे अदरक के टुकड़े को पानी में उबाल कर पीएं. स्टडी भी बताती है कि अदरक इम्यूनिटी को बूस्ट करता है और बीमारियों से शरीर की रक्षा करता है.

सर्दी जुकाम के उपचार

 

– डॉक्टर वसंत लाद की किताब ‘दी कम्पलीट बूक ऑफ आयुर्वेदिक होम रेमिडी’ में बताया गया है कि एक भाग अदरक और एक भाग दालचीनी, यानी दोनों के बराबर मात्रा में लेना है और इनसे दोगुनी मात्रा में लेमन ग्रास यानी नींबू की दूब लें. इन सभी को करीब 10 मिनट तक गर्म पानी में भीगो कर रख दें. इसके बाद इसे छान लें और कुछ शहद मिला लें. यह चाय पीने से खांसी, जुकान में राहत मिलती है

काली मिर्च का पाउडर
सर्दी जुकाम के उपचार
जुकाम और खांसी के इलाज के लिए यह बहुत अच्‍छा देसी ईलाज है। दो चुटकी, हल्दी पाउडर दो चुटकी, सौंठ पाउडर दो चुटकी, लौंग का पाउडर एक चुटकी और बड़ी इलायची आधी चुटकी, लेकर इन सबको एक गिलास दूध में डालकर उबाल लें। इस दूध में मिश्री मिलाकर पीने से जुकाम ठीक हो जाता है। शुगर वाले मिश्री की जगह स्टीविया तुलसी का पाउडर मिलाकर प्रयोग करें।
इलायची
सर्दी जुकाम के उपचार
इलायची न केवल बहुत अच्‍छा मसाला है बल्कि यह सर्दी और जुकाम से भी बचाव करता है। जुकाम होने पर इलायची को पीसकर रुमाल पर लगाकर सूंघने से सर्दी-जुकाम और खांसी ठीक हो जाती है। इसके अलावा चाय में इलायची डालकर पीने से आराम मिलता है।
हर्बल टी
सर्दी और जुकाम में औषधीय चाय पीना बहुत फायदेमंद होता है। सर्दी के कारण जुकाम, सिरदर्द, बुखार और खांसी होना सामान्‍य है, ऐसे में हर्बल टी पीना आपके लिए फायदेमंद है। इससे ठंड दूर होती है और पसीना निकलता है, और आराम मिलता है। यदि जुकाम खुश्‍क हो जाये, कफ गाढ़ा, पीला ओर बदबूदार हो और सिर में दर्द हो तो इसे दूर करने के लिए हर्बल टी का सेवन कीजिए।

 

कपूर
सर्दी से बचाव के लिए कपूर का प्रयोग भी फायदेमंद है। कपूर की एक टिकिया को रुमाल में लपेटकर बार-बार सूंघने से आराम मिलता है और बंद नाक खुल जाती है। इसके आलाव यह कपूर सूंघने से ठंड भी दूर होती है। कपूर की टिकिया का प्रयोग करके आप सर्दी और जुकाम से बचाव कर सकते हैं।

 

कालीमिर्च
आधा चम्‍मच कालीमिर्च के चूर्ण और एक चम्‍मच मिश्री को मिलाकर एक कप गर्म दूध के साथ दिन में लगभग तीन बार पीने से आराम मिलता है। रात को 10 कालीमिर्च चबाकर उसके ऊपर से एक गिलास गरम दूध पीने से आरा‍म मिलता है। कालीमिर्च को शहद में मिलाकर चाटने से सर्दी और खांसी ठीक हो जाती है।
तुलसी और अदरक की चाय
मौसम चाहे कोई भी हो तुलसी अदरक और काली मिर्च की चाय आपको तुरंत सर्दी जुकाम और गला दर्द से काफी राहत दिला सकती है। क्यो की तुलसी मे बहुत अंटीबायोटिक पाए जाते है जो शरीर की इम्मुनिटी बनाए रखने के साथ साथ बरे टोक्सींस को भी खत्म करते है।
इसमे CARYOPHYLLENE एस्कॉर्बिक एसिड कैरोटेन (विटामिन ए) ,रोजमरारी एसिड यूआरएसओएलआईसीआई एसिड, APIGENIN सेलेनियम, जस्ता मैंगनीज अदरक और काली मिर्च ग्ले के लिए बहुत लाभदायक है। ये चाय शरीर को अंदर से गर्मी प्रदान करता है जिस से शरीर गर्म रेहता है।
तुलसी मे बहुत सारे औषधीय गुण होते है इसका उपयोग सर्दी-जुकाम, खॉसी, दंत रोग और श्वास सम्बंधी रोग के लिए बहुत ही फायदेमंद माना जाता हैतुलसी के कोमल पत्तों को चबाने से खांसी और नजले से राहत मिलती है।
शहद, अदरक और तुलसी को मिलाकर बनाया गया काढ़ा पीने से ब्रोंकाइटिस, दमा, कफ और सर्दी में राहत मिलती है। नमक, लौंग और तुलसी के पत्तों से बनाया गया काढ़ा इंफ्लुएंजा (एक तरह का बुखार) में फौरन राहत देता है।
यह भी ज़रूर करे
1 गर्म पेय – गर्म दूध हो, चाय हो या कॉफी, सर्दी से आपकी रक्षा करने में सहायक होती है। इसके अलावा गर्म पानी, ग्रीन टी या किसी भी प्रकार का गर्म पेय पदार्थ आपके शरीर में गर्माहट पैदा करता है। अदरक या तुलसी वाली चाय इन दिनों में बहुत लाभदायक होती है।
2 हरी सब्जियां – इस मौसम में हरी सब्जियां खाना स्वास्थ्य लाभ देने के साथ ही सर्दी के दुष्प्रभाव से बचने के लिए शरीर को पोषण भी देता है। इनमें मौजूद पोषक तत्व प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाकर बीमारियों से बचाते हैं।
3 सूप – सूप भी सर्दी में स्वस्थ रहने का बेहतरीन विकल्प है। यह शरीर में पोषक तत्वों की कमी को पूरा करता है, साथ ही शरीर में गर्माहट पैदा करता है, जो सर्दी से बचाने में सहायक होती है।
4 सरसों – सरसों का साग हो या सरसों का तेल, गर्म प्रकृति होने के कारण यह सर्दी में आपके शरीर को गर्माहट देने में बेहद लाभदायक है। इससे आप सर्दी में आसानी से बीमार नहीं होते।
5 धूप – ठंडे मौसम में प्राकृतिक रूप से गर्मी देने का काम करती है धूप। प्रति‍दिन पर्याप्त मात्रा में धूप लेना सर्दी के दिनों में आपको स्वस्थ्य रखने में मदद करता है और आप संक्रमण व सर्दी से बच सकते हैं।
सर्दी जुकाम मे इन चीज़ों का हरगिज़ न करे सेवन

 

 ठंडा पानी

 

 चावल
 दही , मलाई, घी
 टमाटर, खीरा, केला।
 संतरा, आलू मूली
 बर्गर , पिज्जा ,
 या कोई भी ठंडा जूस का सेवन न करे 

दोस्तों यह पोस्ट आपकोकैसी लगी,नीचेकमेंट करके ज़रूर बताना

यदि आपको लगता है कि इस पोस्ट मे कुझ और कंटेंट भी ऐड (add)हो सकता है तो plz आप उसे भी बताना मे इसमें वो ज़रूर add करूँगा

दोस्तों यदि आपके पास भी कोई रोचक या मोटिवेशनलस्टोरी है, या फिर कोई भी ऐसी जानकारी जो आप लोगो तक पहुंचना चाहते हो,तो आप वो  content मुझे मेल कर सकते हो. आपके उस article को आपके ही नाम से मे अपनी इस website pr पोस्ट करूंगाइसके साथ अपनी फोटो भी देना ताकि उसे अपनी वैबसाइट पर  दिखा सकू

My mail 👉 mikymorya123@gmail.com

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!