Navratri 2021 kab hai durga pooja

चलिए जानते है इस बार नवरात्री 2021 की खास बातें.

इस बार 2021 मे पितृ पक्ष 6 अक्टूबर को समाप्त हो रहे हैं और 7 अक्टूबर से शारदीय नवरात्रि (Navratri 2021) शुरू हों जाएंगे । इसी तरह 7 दिन चलने वाले माँ दुर्गा पूजा की शुरुआत के लिए कलश स्थापना 7 अक्टूबर, दिन गुरुवार को ही की जाएगी।

Advertisement

Navratre-2021

सिर्फ 8 दिन की होगी navratri 2021

14 अक्टूबर को महानवमी (Maha Navami 2021) है और 15 अक्टूबर को दशहरा (Dussehra 2021) मनाया जाएगा. क्योंकि ज्योतिषाचार्यों के अनुसार, इस साल चतुर्थी तिथि का क्षय होने का कारण नवरात्रि 9 दिनों के बजाय 8 दिनों के होंगे।

 

इस बार 2021 मे 14 अक्टूबर तक चलने वाले नवरात्रि के दिनों में भक्तो द्वारा पूरी श्रद्धा से मां दुर्गा की अलग-अलग स्वरूपों की पूजा-अर्चना की जाएगी।

 

भक्त माता रानी की विशेष कृपा पाने के लिए उपवास भी रखते हैं। पूरी श्रद्धा भावना से माँ दुर्गा की पूजा करने से और विधि विधान अनुसार व्रत नियम का पालन करने से हर मनोकामना पूरी होती है.

 

मान्यता है कि मां दुर्गा अपने सभी भक्तों के कष्टों निवारती है और मन की मुरादें पूरी करती हैं।

 

चलिए जानते है साल 2021 मे इस बार माँ दुर्गा किस सवारी पर आ रही है और उसका क्या महत्त्व होगा.

 

मां दुर्गा की सवारी 2021 navratri 

साल 2021 मे इस बार माता रानी पालकी यानी डोली पर सवार हो कर आएंगी. 

 

 शास्त्रों के अनुसार, अगर नवरात्रि रविवार या सोमवार को प्रारंभ होती हैं तो माता रानी की सवारी हाथी होती है।

 

नवरात्रि की शुरुआत गर शनिवार या मंगलवार से होती है तो माँ दुर्गा की सवारी घोड़ा यानी अश्व होता है।

 

अगर नवरात्रि बुधवार से शुरू होते हैं तो मां दुर्गा की सवारी नाव होती है। अगर नवरात्रि गुरुवार या शुक्रवार से प्रारंभ होते हैं तो माता रानी की सवारी डोली होती है। इस साल नवरात्रि गुरुवार से प्रारंभ हो रहे हैं तो मां दुर्गा डोली पर सवार होकर आएंगी।

 

Advertisement

चलिए जानते है मां दुर्गा की सवारी का महत्व-

शास्त्रों में वर्णित है कि जब मां दुर्गा पालकी या डोली पर सवार होकर आती हैं तो राजनैतिक उथल-पुथल की स्थिति बनती है।

 

डोली पर आरही माता का संकेत यह  प्राकृतिक आपदाओ की तरफ भी होता है।

 

ज्योतिषाचार्यों के अनुसार, माता का डोली पर सवार होकर आना बहुत ज्यादा शुभ संकेत नहीं माना जाता है। लेकिन सच्चे मन और आस्था के साथ जो लोग माँ दुर्गा की उपासना करते है माँ दुर्गा उनके जीवन मे आने वाले दुख कष्टों को काटती है.

तो आज हमने जाना की navratri 2021 kab hai  माँ दुर्गा के वाहन के महत्त्व क्या है.

ऐसी ही तमाम जानकारी पाने के पिए हमारे blog से जुड़े रहे.

चलिए जानते है नवरात्रे यानी दुर्गाअस्टमी मे माँ के किन किन रूपों की पूजा की जाती है.

माँ दुर्गा 9 रूप

माँ दुर्गा के 9 रूप 

  • शैलपुत्री
  • ब्रह्मचारिणी
  • चन्द्रघण्टा
  • कूष्माण्डा
  • स्कंदमाता
  • कात्यायनी
  • कालरात्रि
  • महागौरी

 

इन्हे भी पढे –

 

 

 

 

 

 

 

 

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Leave a Comment