steve jobs-real life inspirational stories in hindi

कामयाबी (success) का दूसरा नाम steve jobs-

real life inspirational stories in hindi


 steve jobs-real life inspirational stories in hindi-

दोस्तो कोई भी बड़ी सफलता या कामयाबी रातो रात नहीं मिल जाती उसके लिए दिन रात कड़ी मेहनत , और संघर्स करना पड़ता है तब जा कर कामयाबी की बुलंदिया हासिल होती है । हर बड़ी कामयाबी के पीछे बहुत बड़ा संघर्स छुपा होता है। लेकिन यह दिन रात संघर्स करने की ताकत आखिर मिलती कहा है उनको , “यह ताकत मिलती है उनको motivation से। प्रेरणा से ।


real life inspirational stories in hindi

 

 

steve jobs एक ऐसा इंसान जो पूरे संसार मे डिजिटल क्रांति की मिसाल माना जाता है । ये वही इंसान है जो एपल के -co-founder है ।एप्पल कंपनी के को-फाउंडर स्टीव जॉब्स आज हमारे बीच नहीं हैं लेकिन अपने इनोवेशन के जरिए वो आने वाले दशकों तक करोड़ों दिलों में राज करेंगे।

आज हम एक ऐसे अमीर व्यक्ति के बारे में बात कर रहें, जिन्हें न अपने पैसे से प्यार था और न ही पैसा उनकी पहचान थी ।

वो इंसान जिसे अपने ही माता-पिता ने किसी और के पास भेज दिया, जिसे राह दिखाने वाला कोई नहीं था, जिसने कॉलेज के 6 महीने बाद कॉलेज छोड़ दिया, आज विश्व भर में कंप्यूटर के क्रांतिकारी कहलाते हैं । इन्होंने ही कंप्यूटर को एक नयी पहचान दीं।

 

यहां click करे- A.P.J अब्दुल कलाम एक ऐसा नाम – एक ऐसा इंसान जो कामयाबी की दिनीय की एक बहुत बड़ी मिसाल है जिसके जीवन के संघर्स से हमे यह प्रेरणा मिलती है की अगर इंसान के अंदर कुछ कर दिखाने का जज़्बा और होसला है तो वो किसी भी परिस्थिति (situation) मे भी मुकाम को हासिल कर लेगा | dr. apj abdul kalam real life inspirational stories in hindi

 

 

 

 

steve jobs success real life story-biography steve jobs-

स्टीव जॉब्स का जन्म 24 फरवरी 1955 को  कैलिफोर्निया के सेन फ्रांसिस्को में हुआ था और कैंसर की बीमारी से पीड़ित जॉब्स की मृत्यु 5 अक्टूबर 2011 को हुई थी। जॉब्स 12 जून 2005 को स्टेनफोर्ड यूनिवर्सिटी के एक प्रोग्राम में शामिल हुए जहां उन्होंने अपने जीवन का सबसे प्रसिद्ध भाषण “Stay Hunger Stay Foolish” दिया। इस स्पीच में उन्होंने अपने जीवन से जुड़ी तीन कहानियां सुनाई थीं।

 

जी हा दोस्तो स्टीव जॉब्स ने अपनी life की कमयबियों  से जुड़ी 3 कहानिया सुनाई जो आज हम आपके सामने पेश करने जा रहे है । इसी story का माध्यम से आपको बहुत कुछ सीखने को मिलेगा आप बहुत motivete होंगे।

तो चलिये शुरू करते है success story of स्टीव जॉब्स –  स्टीव जॉब्स  जुबानी

 

Elon Musk real life inspirational stories in hindi

 

success-story

 

 

steve jobs ने speach के शुरू मे बोली यह लाइने –

“आज मैं दुनिया के सबसे सर्वश्रेष्ठ विश्वविद्यालय के दिक्षांत समारोह मे शामिल होने पर खुद को बहुत ज्यादा गौरवान्वित महसूस कर रहा हूँ। लेकिन मैं आपको एक सच बता दूं कि मैं कभी किसी कॉलेज से पास नहीं हुआ और आज पहली बार मैं किसी college graduation ceremony के इतना करीब पहुंचा हूँ। इस समारोह में आज मैं आपको, अपने जीवन की तीन कहानियां (Three Stories) सुनाना चाहूँगा… ज्यादा कुछ नहीं बस तीन कहानियां……………..

 

first story of steve jobs

real life inspirational stories in hindi

 

स्टीव जॉब्स ने बताया, “मुझे कॉलेज से निकाल दिया गया था, लेकिन ऐसा क्यों हुआ, इसे बताने से पहले मैं अपने जन्म की कहानी सुनाता हूं। मेरी मां कॉलेज छात्रा थी और अविवाहित थी। उसने सोचा कि वह मुझे किसी ऐसे दंपती को गोद देगी, जो ग्रेजुएट हों।

 

 

मेरे जन्म से पहले यह तय हो गया था कि मुझे एक वकील और उसकी पत्नी गोद लेंगे लेकिन उन्हें बेटा नहीं बेटी चाहिए था। जब मेरा जन्म हुआ तो मुझे गोद लेने वाले पैरेंट्स को बताया गया कि बेटा हुआ है, क्या वो मुझे गोद लेना चाहते हैं और अचानक वो तैयार हो गए।

 

 

 

मेरी मां को जब पता चला कि जो पैरेंट्स मुझे गोद ले रहे हैं वो ग्रेजुएट नहीं है, तो उन्होंने मुझे देने से मना कर दिया। कुछ महीनों बाद मेरी मां उस समय नरम पड़ी, जब मुझे गोद लेने वाले पैरेंट्स ने ये वादा किया कि वो मुझे कॉलेज भेजेंगे।

 

 

17 साल की उम्र में मुझे कॉलेज में दाखिला मिला। पढ़ाई के दौरान मुझे लगा कि मेरे माता-पिता की सारी कमाई मेरी पढ़ाई में ही खर्च हो रही है। मुझे समझ में नहीं आ रहा था कि मैं अपने जीवन में क्या करूंगा।

 

 

 

आखिरकार मैंने कॉलेज ड्रॉप करने का फैसला किया और सोचा कि कोई काम करूंगा। उस समय यह निर्णय शायद सही नहीं था, लेकिन आज जब मैं पीछे देखता हूं, तो मुझे लगता है कि मेरा निर्णय बिल्कुल सही था।

 

 

उस समय मेरे पास रहने के लिए कोई कमरा नहीं था, इसलिए मैं अपने दोस्त के कमरे में जमीन पर ही सो जाता था। मैं कोक की बॉटल्स बेचता था ताकि जो पैसा मिले उससे खाना खा सकूं। खाने के लिए मैं सात मील चलकर कृष्ण मंदिर जाता था।

 

 

रीड कॉलेज कैलीग्राफी के लिए दुनिया में मशहूर था। पूरे कैम्पस में हाथ से बने हुए बहुत ही खूबसूरत पोस्टर्स लगे थे। मैंने सोचा कि क्यों न मैं भी कैलीग्राफी की पढ़ाई करूं।

 

मैंने serif और sans-serif type-faces के बारे में सीखा; अलग-अलग letter-combination के बीच में space vary करना और किसी अच्छी typography को क्या चीज अच्छा बनाती है, यह भी सीखा। यह खूबसूरत था, इतना कलात्मक था कि इसे science द्वारा नहीं समझा जा सकता। यह मुझे बेहद अच्छा लगता था। उस समय ज़रा सी भी उम्मीद नहीं थी कि मैं इन चीजों का use कभी अपनी life में करूँगा। लेकिन जब दस साल बाद हम पहला Macintosh Computer बना रहे थे, तब मैंने इसे Mac में design कर दिया और Mac खूबसूरत typography युक्त दुनिया का पहला computer बन गया।

 

 

मैंने शेरीफ और सैन शेरीफ टाइपफेस (serif and san serif typefaces) सीखे। मैंने इसी टाइपफेस से अलग-अलग शब्दों को जोड़कर टाइपोग्राफी तैयार की, जिसमें डॉट्स होते हैं।steve jobs-real life inspirational stories in hindi

 

दस साल बाद मैंने पहला (Macintosh computer) डिजाइन किया। खूबसूरत टाइपोग्राफी के साथ यह मेरा पहला कम्प्यूटर डिजाइन था। यदि मैं कॉलेज से नहीं निकालता और मैंने कैलीग्राफी नहीं सीखी होती तो मैं यह नहीं बना पाता”

 

 

 

यहां click करे- karmo ka fal -motivational story in hindi for success

 

 


दोस्तो सफल इंसान की सफलता का राज़ या उसकी सफलता के पीछे सबसे बड़ा हाथ कोई न कोई प्रेरणा (motivation) ही होती है जो उसको सफल व्यक्तियों के जीवन के संघरसों से मिलती है । की वो इंसान कितना संघर्स करके इस मुकाम तक पहुचा है ।


 

इस कहानी को आगे पढ़ने के लिए नंबर 2 दबाएं.

One thought on “steve jobs-real life inspirational stories in hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!