59 chinese apps banned in india | क्यों किया सरकार ने ऐसा?

59 chinese apps banned in india – 

जी हा दोस्तों भारत सरकार (indian government) यानी इलेक्ट्रॉनिक और सूचना के प्रौद्योगकी मंत्रालय (Ministry of Electronics & Information Technology) ने बहुत ही तगड़ा कदम उठाते हुए एक बड़ा एलान कर दिया है जिसमे सभी 59 चाइनीस एप्प को भारत मे बैन कर दिया गया है.(59 chinese apps banned in india)

 

इनमे से जादातर एप्प ऐसे है जिन्हे डाटा चोरी का बहुत बड़ा खतरा मानते हुए गूगल प्ले स्टोर (google playstor)  और IOS प्लेस्टोर (IOS Playstor) से भी हटा दिया गया है,

जो की बहुत ख़ुशी की और गर्व की बात है.

 

 

 

इसकी video देखने के  लिए लास्ट मे जाए 

 

59 chinese apps banned in india | क्यों किया सरकार ने ऐसा? जानिए पूरा सच्च

59-chinese-apps-banned-in-india

Chainese apps

 

 

इन 59 चाइनीस apps के क्या क्या नाम है इसकी की पूरी list मैंने आपको नीचे  दे दी है.. आराम से रीड कर लो. 

 

59 chinese apps list banned in india 

TikTok
Shareit
Kwai
UC Browser
Baidu map
Shein
Clash of Kings
DU battery saver
Helo
Likee
YouCam makeup
Mi Community
CM Browsers
Virus Cleaner
APUS Browser
ROMWE
Club Factory
Newsdog
Beauty Plus
WeChat
UC News
QQ Mail
Weibo
Xender
QQ Music
QQ Newsfeed
Bigo Live
SelfieCity
Mail Master
Parallel Space
Mi Video – Xiaomi
WeSync
ES File Explorer
Viva Video – QU Video Inc
Meitu
Vigo Video
New Video Status
DU Recorder
Vault- Hide
Cache Cleaner DU App studio
DU Cleaner
DU Browser
Hago Play With New Friends
Cam Scanner
Clean Master – Cheetah Mobile
Wonder Camera
Photo Wonder
QQ Player
We Meet
Sweet Selfie
Baidu Translate
Vmate
QQ International
QQ Security Center
QQ Launcher
U Video
V fly Status Video
Mobile Legends
DU Privacy

 

फिलहाल इतना बता दू की इन चाइनीस एप्प (chinese app) मे tiktok, hello, हगो, uc ब्राउजर, शेयरइट (shareit) जैसे

और भी ना जाने कितनी सारी चाइनीस apps (chinese apps)  ने भारतीय लोगो (indian people) के मोबाइल पर कब्ज़ा कर रखा था जिससे ये हमारे मोबाइल की सभी जानकारी भी एक्सेस कर लेते थे.

 

 

Advertisement

अब भारत मे इन सभी apps पर बैन लगने की वजह से इसका चीन को एक बहुत बड़ा आर्थिक झटका लगा है जिसमे उसको अरबो रुययों का नुकसान हुआ है..

 

सिर्फ यही नहीं दोस्तों चीन को एक और बहुत बड़ा झटका हमारे देश की जानता ने भी दिया है…

 

 

भारतीय जानता तेजी से चाइनीस products का बायकॉट करती जा रही है.(chinese product boycott)

 

जिससे चीन को एक और भारी झटका लगा है

 

 

भारत मे सभी चाइनीस एप्लिकेशन (chinese applications) को बैन करने से लेकर सभी चाइनीस products (chinese products) का भारत से बायकॉट करने तक के पीछे का क्या इतिहास रहा है? चलिए आपको बताते है.

 

 

दरअसल ये मामला शुरू हुआ था लद्दाख के गलवान घाटी (galwan ghati) पर भारतीय और चीनी जवानों के बीच ज़मीन के मुद्दे को लेकर…

 

 

जिसमे चीन के सैनिक (chinese army) दादा गिरी करके बार बार गलत और नाजायज तरीके से ज़मीन पर अपना हक़ जाता रहे थे और भारतीय सेना को उकसा रहे थे..

 

 

ताकी युद्ध जैसे हालात पैदा हो जाए…

Advertisement

 

 

जिसके चलते दोनों पक्षो से जवानो के बीच भारी झड़प हो गई..

 

 

जिसमे भारत ने चीन के 47 जवानो को मौत के घाट उतार दिया… पर इस बीच भारत के 25 जवान शहीद हो गए..

 

 

जिसके चलते हर भारतीय के अंदर गुस्से और बदले की आग भड़क उठी…

 

 

ऐसे मे चीन को सबक सिखाने के लिए भारत की जानता धीरे धीरे चाइनीस products का बायकॉट करने लगी.

 

 

सिर्फ यही नहीं भारत की बड़ी बड़ी कंपनियों ने भी चीन के साथ करोड़ो रुपयों की डील केंसिल कर दी,

 

 

मैं अपनी इस article/ video के जरिये भारत की जानता से कहना चाहूंगा की यही सबसे अच्छा मौका है अपनी  देश भक्ति साबित करने का.

 

 

Advertisement

अपने मोबाइल से हर चाइनीस एप्प को निकाल कर बाहर फेक दो,

 

चीन से भारतीय शहीदों का बदला लेने के लिए आपको बढ़ चढ़ कर आगे आना होगा..

 

 

कसम खा लो की आज के बाद कभी चाइनीस प्रोडक्ट नहीं खरीदेंगे. और ना ही उसका कोई एप्प मोबाइल मे use करेंगे.

 

 

देखना आपके इस छोटे से कदम से चीन की क्या हालत हो जाएगी..

 

 

यदि आप चाहते हो की चीन को सबक सिखाया जाए तो दोस्तों plz इस video को हर भारतीय तक पहुचाओ.. ज़ादा से ज़ादा शेयर करो..

जय हिन्द….

 

 

 

Video dekho👉 

 

 

अपने youtube videos ka link, कभी भी खुद से शेयर मत करें – 

Advertisement
Youtube-video-link

Youtube video

 

 

जीवन की अनमोल सच्चाई को दर्शाती हुई तीन कहानियाँ  जरूर पढ़े

 

success-stories-in-hindi

 

 

 

 

Advertisement
Advertisement

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *